संवाद सहयोगी, बिलासपुर : शहर के रौड़ा सेक्टर में बनाए गए शहीद जोरावर सिंह पार्क की हालत खस्ता है। पार्क में रखरखाव के लिए नगर परिषद कोई ध्यान नहीं दे रही है । जगह-जगह पर पार्क में बरसात का पानी खड़ा हो रहा है। पार्क में लगाई घास इतनी लंबी हो चुकी है कि लोगों का पार्क पर जाना भी मुश्किल हो गया है। नगर परिषद द्वारा पार्क की देखरेख के लिए किसी कर्मचारी की तैनाती भी नहीं की गई है। पार्क में शाम के समय नशेड़ियों का आना जाना भी लगा रहता है ।

शहर के जिला पुस्तकालय के समीप बनाए गए शहीद जारोवर सिंह का निर्माण समाज के सभी वर्गो को सुविधा देने के लिए किया गया था। कुछ समय तक तो इस पार्क का रखरखाव सही प्रकार से होता रहा है। लेकिन कुछ दिनों बाद इसकी हालत खस्ता होनी शुरू हो गई।

बता दें कि कई माह से पार्क में साफ सफाई नहीं हो पाई। जिसके कारण बरसात में पार्क के बीच जगह-जगह लंबी घास उग गई है। इसके अलावा पार्क में बच्चों के लिए लगाए गए झूलों की भी कोई देखरेख नहीं कर रहा है। पार्क में घास होने के कारण लोगों का यहां आना जाना भी मुश्किल हो गया है। पार्क में फूलों के लिए बनी क्यारियों में बरसात का पानी भर गया है। इससे आस पास के क्षेत्रों में डेंगू व अन्य रोगों के फैलने के खतरा बना रहता है। नशे का अड्डा बन रहा पार्क

शाम के बाद अंधेरा होते ही पार्क में नशेड़ियों का आना जाना लगा रहता है । पार्क में सुरक्षा व्यवस्था की देखरेख के लिए किसरी भी कर्मी की तैनाती नहीं है । इसी कारण से न तो पार्क के बंद हाने का समय है और न ही खुलने का कोई समय है । इसी कारण से नशेड़ी बिना रोक टोक से पार्क में आते जाते रहते हैं । इस मामले पर नगर परिषद की कार्यकारी अधिकारी उर्वशी वालिया ने बताया कि वह कुछ समय से अवकाश पर हैं वापिस आते ही पार्क की साफ सफाई करने के निर्देश जारी किए गए हैं ।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप