संवाद सहयोगी, भगेड़ : औहर में राजाओं के समय में बनाए गए भंजवाणी पुल का दोबारा निर्माण होने की उम्मीद बंधी है। विधायक राजेंद्र गर्ग ने बताया भंजवाणी पुल बनने से बिलासपुर की दूरी काफी कम हो जाएगी। लोगों की मांग को विधानसभा की प्लानिग बैठक में सरकार के समक्ष रखा गया है। उन्हें उम्मीद है कि इसके लिए शीघ्र ही इसके निर्माण के रास्ते खुले जाएंगे। भंजवाणी पुल का निर्माण राजा के कार्यकाल में किया गया था, लेकिन भाखड़ा बांध बनने के बाद यह पुल धवस्त हो गया था। पुल धवस्त होने के बाद लोगों को बिलासपुर पहुंचने के लिए तीन किलोमीटर का सफर तीस किलोमीटर पड़ रहा है। विधायक राजेंद्र गर्ग ने उपस्थित लोगों को आश्वस्त करवाया कि औहर गांव को भी 3 फेस लाइन से जोड़ा गया है। पलथी गांव के श्मशान घाट तक यह लाइन जोड़ी गई है, जिसकी लोग काफी लंबे समय से मांग कर रहे थे। इस लाइन के पहुंचने से लोगों ने राहत की सांस ली है तथा लोगों को कम वोल्टेज की समस्या से निजात दिलाई गई है।

Posted By: Jagran