घुमारवीं, जेएनएन। बिलासपुर जिले के घुमारवीं उपमंडल के तहत आने वाले डंगार कस्बे में मायके में एक शादी समारोह में शामिल होने आई दो महिलाओं ने प्यास लगने पर गलती से कथित तौर वाहनों की बैटरी में प्रयोग होने वाले तेजाब युक्त पानी को सादा पानी समझकर जल्दबाजी में गटक लिया। पानी पीते ही दोनों बहनों की तबीयत खराब हो गई। बारात की विदाई के वक़्त हुए इस हादसे के चलते मौके पर अफ़रातफ़री मच गई। परिवार के लोगों को जैसे ही दोनों की खराब तबीयत का एहसास हुआ तो दोनों को देर शाम घुमारवीं के अस्पताल में इमरजेंसी दाखिल करा दिया गया है। इनमें से एक बहन की तबीयत नाजुक बनी हुई है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार घुमारवीं उपमंडल के तहत आने वाले डंगार कस्बे के रहने वाले जगरनाथ नामक एक व्यक्ति के घर में आज शादी समारोह था। घर में बारात की विदाई की तैयारी चल रही थी कि  इस दौरान हमीरपुर जिले के बड़सर तहसील के गांव पेहरवीं से डंगार में अपने मायके में शादी समारोह में हिस्सा लेने आई जगरनाथ की बेटी ज्योति पत्नी बिरेंद्र को अचानक समारोह के दौरान कामकाज की वजह से थकावट के चलते ज्यादा प्यास लगी तो उसने घर के भीतर एक अलमारी में पड़ी हुई वाहनों की बैटरियों में डाले जाने वाले तेज़ाब युक्त पानी की बोतल में से तरल पदार्थ को सादा पानी समझकर पी लिया।उसके पीछे उसकी छोटी बहन निक्की देवी ने भी उसी बोतल में से सादा पानी समझकर पी लिया।  थोड़ी ही देर में दोनों की तबियत खराब हो गयी। उनके उल्टियां मारना शुरू करते ही इस दौरान शादी समारोह में अफरा-तफरी मच गई और परिवार के लोगों ने दोनों को गाड़ी में डालकर घुमारवीं अस्पताल में देर रात पहुंचा दिया है। इनमें से ज्योति की हालत गंभीर बनी हुई है।

एसपी अशोक शर्मा ने यहां बताया कि पुलिस ने दोनों बहनों और पिता के बयान दर्ज कर लिए हैं। अब पुलिस मौके पर जाकर जांच करेगी कि किन हालात में दोनों बहनों ने गलती से यह कदम उठाया है पुलिस दोनों की ओर से बताई गई तथाकथित तेजाब युक्त पानी की बोतल को भी कब्जे में लेगी। साथ ही यह जांच की जाएगी कि बोतल में तेजाबयुक्त पानी ही था या फिर कोई जहरीला पदार्थ था जिसे इन्होंने गटक लिया। पुष्ट तौर तभी कहा जा सकेगा कि इन्होंने कौन सा तरल पदार्थ पीया जिससे इनकी तबियत बिगड़ गयी है। पुलिस ने फिलहाल रपट दर्ज कर ली है।

Posted By: Babita