संवाद सहयोगी, बड़सर : बड़सर में लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की मनमाने रवैया से जनता में आक्रोश बढ़ा रहा है। एक तरफ जहां बड़सर में सड़कों की स्थिति बदहाल बनी हुई है, वहीं अधिकारियों की मनमानी से जनता परेशान हैं। बड़सर उपमंडल में सड़कें बदहाल स्थिति में हैं। ज्यादातर सड़कों की टा¨रग उखड़ गई है। खड्ड का रूप धारण कर चुकी ज्यादातर सड़कों पर वाहन चालकों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। उपमंडल की ज्यादातर सड़कों के किनारे नालियां न होने के कारण बरसात का पानी सड़कों पर से गुजरने से जगह-जगह से टा¨रग उखड़ गई। उपमंडल के तहत आने वाले मैहरे-गलोड़ वाया टिप्पर, बिझड़ी-भोटा वाया रोपड़ी, बिझड़ी-उखली वाया धंगोटा, लोहारली-करनेड़ा, समैला-दलचेहड़ा व सलौनी-जोल वाया जंदराणा, मैहरे-चकमोह वाया घंघोट तथा महारल-उखली वाया सठवीं, दख्योड़ा व धंगोटा तथा जोल-गारली वाया धबड़ियाणा ¨लक मार्ग की हालत खस्ता हो गई है। इससे वाहन चालकों व राहगीरों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। क्षेत्र के लोगों ने लोक निर्माण विभाग से बरसात में बदहाल हुई सड़कों के किनारे नालियों के निर्माण की गुहार लगाई है। वहीं बिझड़ी बाजार में सड़क की हालत खस्ता हो गई है। यह सड़क मार्ग उतरी भारत के विश्व विख्यात सिद्धपीठ बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्व को जाती है। इस सड़क पर गाड़ी चलाना तो दूर पैदल चलना भी किसी खतरे से खाली नहीं है। बिझड़ी बाजार में सड़क मार्ग के बीचों-बीच गड्ढे पड़े हुए हैं। उधर, लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता प्रमोद कश्यप का कहना है कि सड़कों पर रूके हुए पानी की जिम्मेदारी विभाग की नहीं है। बरसात के बाद ही सड़कों की स्थिति को सुधारा जा सकता है। -------------------------

अजय शर्मा निवासी बुढाण का कहना है कि बिझड़ी बाजार नालियां बंद होने से बारिश होने पर तालाब बन जाता है। इसकी शिकायत विभाग को कई बार की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो पाई।

----------------------

प्रदीप गर्ग निवासी बल्याह का कहना है कि सड़कों की मरमत करना लोक निर्माण विभाग का काम है। बड़सर में सड़कों की हालत बदतर है। खस्ताहाल सड़कों जल्द सुध लेनी चाहिए।

---------------------

जीवन दत्त शर्मा निवासी घुमारवीं का कहना है कि सड़कों की हालत खस्ता होने से वाहन चलाना मुश्किल हो गया है। यही नहीं राहगीरों को सड़क पर पैदल चलने में भी परेशानी झेलनी पड़ रही है।

व्यापार मंडल बिझड़ी के अध्यक्ष बब्बी शर्मा का कहना है कि बड़सर उपमंडल में सड़कें बदहाल स्थिति में हैं। उपमंडल की ज्यादातर सड़कों की टा¨रग उखड़ गई है। विभागीय अधिकारियों को कोई परवाह नहीं है।

Posted By: Jagran