संवाद सहयोगी, स्वारघाट : जिला बिलासपुर में रूक-रूक बारिश का सिलसिला जारी है। रविवार को हुई बारिश से छड़ोल के समीप पहाड़ी से चट्टानें व मलबा गिरने से चंडीगढ़-मनाली राष्ट्रीय राजमार्ग तीन घंटे तक बाधित हो गया। सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी- लंबी कतारें लग गई। तीन घंटे जाम में फंसे रहने से वाहन चालकों व पर्यटकों को परेशानी झेलनी पड़ी। बरसात में ऐसी स्थिति से निपटने के लिए इंतजाम पहले से पूरे किए हुए लोक निर्माण विभाग ने कड़ी मशक्कत के बाद मार्ग जेसीबी लगाकर अवरुद्ध मार्ग को खोलकर यातायात के लिए बहाल कर दिया। इससे यात्रियों व वाहन चालकों ने राहत की सांस ली। वहीं, नयनादेवी-कैंचीमोड मार्ग भी स्वाहन तथा सुलियां के निकट पहाड़ी से चट्टानें गिरने से बाधित हो गया। लोक निर्माण विभाग मशीनरी के साथ मार्ग से चट्टानें हटाने में जुटा हुआ है। ग्राम पंचायत कुटेहला के तहत गांव काथला को जोड़ने वाली संपर्क सड़क भी ल्हासे गिरने से यातायात के लिए अवरुद्ध हो गई है।

By Jagran