नयनादेवी (बिलासपुर), जेएनएन। पंजाब के मोहाली खरड़ इलाके से अंबाला के लिए निकलने वाले नेशनल हाईवे से एक व्यक्ति की कार छीनकर भागे बदमाशों का पीछा करती हुई पंजाब पुलिस ने इन्हें हिमाचल प्रदेश के नैना देवी में जाकर घेर लिया। खुद को पंजाब पुलिस के घेरे में देखकर बदमाशों ने मोहाली पुलिस के डीएसपी की अगुवाई में मौके पर पहुंची टीम पर गोली चला दी। इस दौरान पुलिस टीम ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए बदमाशों पर गोली चलाई। इस गोलीबारी में पंजाब के गुरदासपुर के रहने वाले एक बदमाश की मौत हो गई है 

सुबह करीब 2:30 बजे हुई इस वारदात ने पूरे नैना देवी क्षेत्र में सनसनी मचा दी। अफरा-तफरी में मौके पर पहुंची हिमाचल पुलिस ने भी पंजाब पुलिस के साथ मिलकर करीब आधे घंटे तक चले इस एनकाउंटर में 2 लोगों को घायलावस्था में काबू किया। बिलासपुर जिला के SP अशोक कुमार शर्मा ने के अनुसार एनकाउंटर में दो बदमाशों को मौके से जिंदा हिरासत में ले लिया गया था इन्हें कोर्ट पुलिस थाना की हवालात में रखा गया है उन्होंने कहा कि बेशक एनकाउंटर हुआ है लेकिन इस एनकाउंटर में सिर्फ सोनू मसीह निवासी गुरदासपुर की ही मौत हुई है जबकि पुलिस ने घेराबंदी करके चमकौर साहब रूप नगर के रहने वाले अमनदीप और गुरदासपुर के रहने वाले गोल्डी को देर रात को ही गिरफ्तार कर लिया था। सुबह होने तक पंजाब पुलिस और हिमाचल पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पूरे इलाके को सील कर दिया है। एनकाउंटर में पंजाब पुलिस से कुछ जवानों को भी चोटे लगी हैं।

 

इस मामले में नैना देवी पुलिस थाने में पंजाब पुलिस के ऊरढ की शिकायत पर हमलावरों के खिलाफ सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने वह हत्या के प्रयास की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। बिलासपुर के एसपी अशोक कुमार भी मौके पर ही मौजूद हैं पुलिस इस मामले में विभिन्न पहलुओं की जांच कर रही है बताया जा रहा है कि तीनों बदमाशों पर पंजाब राज्य के विभिन्न थानों में कई संगीन मुकदमे दर्ज है बिलासपुर अशोक कुमार ने बताया कि डीएसपी मोहाली ने हिमाचल पुलिस को सूचना दी है कि पंजाब के खरड़ से अंबाला के लिए जाने वाले का हाईवे पर अपनी गाड़ी वरना कार लेकर जा रहे  एक व्यक्ति को पिस्तौल की नोक पर रोककर  पंजाब के रूप नगर जिले के चमकौर साहब के रहने वाले अमनदीप, पंजाब के ही गुरदास पुर के रहने वाले सोनू और गोल्डी ने कार छीनने के बाद इसे मौके से भगा लिया और कार के मालिक ने मोहाली पुलिस को इस मामले में तुरंत जानकारी दी। कार लेकर भागे हुए बदमाशों ने इसकी नंबर प्लेट बदलते हुए हिमाचल ने नयनादेवी को भागने और छिपनेकी सुरक्षित जगह मानते हुए नैना देवी का रुख कर लिया ।

 

 इस बीच डीएसपी मोहाली के नेतृत्व में बदमाशों का पीछा करते हुए मोहाली पुलिस की टीम सुबह करीब 2:30 बजे नैना देवी पहुंची। जहां पर एक होटल के रेस्टोरेंट में खाना खा रहे तीनों बदमाशों को पुलिस ने घेर लिया। खुद को गिरा देखकर बदमाशों ने पुलिस टीम पर गोली चलाना शुरु कर दी जवाबी कार्रवाई में डीएसपी मोहाली के निर्देश पर पुलिस टीम ने भी बदमाशों पर गोलियां बरसाई। इस दौरान आधी रात के बाद हुए एनकाउंटर में पूरे नैना देवी इलाके में हलचल मच गई। डीएसपी मोहाली ने नैनादेवी पुलिस को भी इस मामले में खबर दी। इसके बाद करीब आधे घंटे तक चला एनकाउंटर में पंजाब के गुरदासपुर के रहने वाले बदमाश सोनू मसीहा की मौके पर ही मौत हो गई जबकि अमनदीप और गोल्डी को गंभीर हालत में पंजाब के रूप नगर इलाके में किसी अस्पताल में दाखिल कराया गया है।

पंजाब पुलिस ने रात को ही मौके पर से सोनू मसीह के शव को अपने थाना क्षेत्र की सीमा में शिफ्ट कर दिया है। सुबह होने तक पंजाब पुलिस ने पूरा इलाका हिमाचल पुलिस की मदद से सील कर दिया । मामले की जांच की जा रही है इस पूरी वारदात में पंजाब पुलिस के कुछ जवानों को भी चोटें आई हैं इन्हें भी पुलिस ने अस्पताल में शिफ्ट कर दिया है। अशोक कुमार ने बताया कि पुलिस नैना देवी पुलिस चौकी के तहत इसमें भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

By Babita