संवाद सहयोगी, भराड़ी : राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भराड़ी में स्वयंसेवियों द्वारा विश्व रक्तदाता दिवस मनाया गया। एनएसएस, एनसीसी, ईको क्लब व स्काउट एंड गाइड के बच्चों ने रैली निकालकर स्थानीय लोगों को रक्तदान के प्रति जागरूक किया। इस दौरान भाषण प्रतियोगिता भी करवाई गई। कार्यकारी प्रधानाचार्य जगजीत ¨सह ने बताया कि रक्तदान महादान है। इससे जहां शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है वहीं, किसी भी दुर्घटना के समय आम आदमी के जीवन की रक्षा भी की जा सकती है। देश में हर वर्ष 250 सीसी के करीब चार करोड़ यूनिट ब्लड की आवश्यकता होती है, जबकि मात्र पांच लाख यूनिट ब्लड ही एकत्रित हो पाता है। रक्तदान से हार्ट अटैक की आशंका कम हो जाती है। एक नई रिसर्च के अनुसार नियमित रक्तदान से कैंसर व दूसरी जानलेवा बीमारियों का खतरा भी कम हो जाता है। कार्यक्रम अधिकारी तिलक धर्माणी ने भी बच्चों को रक्तदान के बारे में बताया। इस मौके पर मनोरमा चड्डा, मीता शर्मा, चमनलाल, पवन कुमार, बलवंत पटियाल, दिनेश धर्माणी, वीरेंद्र ¨सह, सपना, सुरेश कुमार व सुनील सहित अन्य स्टाफ सदस्य मौजूद रहे।

Posted By: Jagran