जागरण टीम, झंडूता/बरठीं : उपमंडल झंडूता में डेंगू अपने पांव पसार रहा है। मरीजों का आंकड़ा 100 के पार हो जाने से क्षेत्र में दहशत का माहौल है। उपमंडल झंडूता में डेंगू के मरीज झंडूता, कोटधार, गेहडवीं एवं बरठीं के विभिन्न क्षेत्रों में पाए जा रहे हैं, जिसमें अधिकतर मरीज बरठीं क्षेत्र से आ रहे हैं। दो दिन में चार और मरीज पाए गए हैं। डेंगू के फैलने का मुख्य कारण नालियों में खड़ा हुआ पानी जिस की निकासी का न होना पाया गया है। विभिन्न क्षेत्रों में आशा वर्कर से पूछे जाने पर उनका कहना है कि डेंगू अधिकतर प्रवासी लोगों के निवास स्थानों की ओर से बढ़ रहा है। जहां सफाई का कोई साधन नहीं है और उचित शौचालय भी नहीं है।

विभागीय जानकारी के अनुसार क्षेत्र में डेंगू का आंकड़ा 100 के पार पहुंच गया है, जिससे निजात पाने के लिए अलग अलग क्षेत्रों में फॉ¨गग की जा रही है तथा लोगों को सफाई के लिए जागरूक किया जा रहा है।

झंडूता के हेल्थ एजुकेटर प्रवीण शर्मा ने बताया की मौसम बदलने के साथ ही तरह-तरह के वायरल संक्रमण फैलने लगते हैं जिसमें डेंगू बेहद खतरनाक बीमारी है वैसे तो डेंगू का सामान्य लक्षण बुखार है, लेकिन यह सामान्य बुखार से अलग होता है।

---------

27 नए मामले आए सामने : डॉ. परविन्द्र ¨सह

संवाद सहयोगी, बिलासपुर : नोडल अधिकारी डॉ. परविन्द्र ¨सह ने बताया कि बुधवार को डेंगू के 27 नए मामले सामने आए हैं। इनमें छह बिलासपुर शहर से, 15 मामले मारकंड और 4 मामले झंडूता से और दो मामले जिला सोलन से दर्ज किए गए। उन्होंने बताया कि डेंगू से पीड़ित 118 रोगियों का इलाज चल रहा है। इनमें पांच रोगी को अस्पताल में दाखिल हैं और शेष 113 का इलाज घरों में ही हो रहा।

Posted By: Jagran