संवाद सहयोगी, साढौरा : दुर्गा मंदिर के पास नई टोली की एक बस्ती में विवाहिता कर्मजीत का शव पलंग पर मिला। उसके ससुरालियों ने फंदा लगाकर आत्महत्या करने की बात पुलिस को कही, जबकि मृतका के भाई गढ़ी कोटाहा निवासी धर्मपाल ने जीजा धर्मवीर और उसके परिजनों पर हत्या करने का आरोप लगाया। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस में रखवा दिया गया।

मृतका के ससुर सेवाराम ने पुलिस को बताया कि मंगलवार दोपहर कर्मजीत अपने कमरे में पंखे से फंदा लिए हुए देखी गई। परिजनों ने उसे नीचे उतारा, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। शव को पलंग पर लिटाकर पुलिस को सूचित किया गया और उसके मायके वालों को भी सूचना दी। उसका भाई धर्मपाल और अन्य परिजन भी घटनास्थल पर पहुंचे।

धर्मपाल ने आरोप लगाया कि आठ साल पहले धर्मवीर से विवाह के बाद से ही उसकी बहन को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता रहा है। इस बारे में कई बार पंचायत होने के बावजूद उसकी बहन से मारपीट की जाती रही है। तीन दिन पहले भी मृतका कर्मजीत के साथ हुई मारपीट के बाद कर्मजीत अपने मायके गढ़ी कोटाहा चली गई थी। सोमवार को धर्मवीर अहोई व्रत के पूजन के लिए उसे लेकर गया था। थाना प्रभारी रतन लाल ने बताया कि मृतका के भाई के बयानों पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। बुधवार को पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप