कुलदीप हर्ष, साढौरा

साढौरा विधानसभा से भागमल के बाद बलवंत सिंह की ऐसे विधायक हैं, जो यहां से तीन बार चुने जा चुके हैं। पांच साल में बलवंत सिंह विधानसभा में 970 करोड़ रुपये के काम कराने का दावा कर रहे हैं। फिर भी कई मुद्दे है। भाजपा विधायक बलवंत सिंह का मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी रेणू बाला से बताया जा रहा है। बसपा से सही राम तीसरी बार यहां से मैदान में है। वहीं जजपा भी पहली बार चुनाव लड़ रही है। साफ सफाई व स्वास्थ्य सेवाएं क्षेत्र के अहम मुद्दे बने हैं। विधानसभा में कुल 211069 मतदाता है। इनमें 112961 पुरुष व 98108 महिलाएं हैं जो 21 अक्टूबर को मतदान कर ये तय करेंगे कि इस सीट पर कौन सा प्रत्याशी राज करेगा।

साढौरा विधानसभा के मुख्य मुद्दे :

क्या : बिलासपुर में एसटीपी और सीवर लाइन डालने को मंजूरी तो मिली लेकिन काम शुरू नहीं हुआ।

क्यों : कस्बे का सारा गंदा पानी नाले के रूप में साढौरा मार्ग पर अजात आश्रम के पास सरस्वती नदी में गिर रहा है।

क्या : यमुनानगर-चंडीगढ़ रेलवे लाइन पर 14 साल में कोई काम नहीं हुआ।

क्यों : यमुनानगर व चंडीगढ़ जाने के लिए फिलहाल लोग बसों व निजी वाहनों से जा रहे हैं जो बहुत महंगा पड़ता है।

क्या : बिलासपुर में राजकीय आइटीआइ बनाने की मांग।

क्यों : आइटीआइ के लिए छात्रों को साढौरा में 15 व यमुनानगर में 25 किलोमीटर जाना पड़ रहा है।

क्या : बिलासपुर में केंद्रीय विद्यालय को मंजूरी के बाद काम शुरू नहीं हुआ।

क्यों : विद्यालय खुलने से जरूरतमंद बच्चों को यहां मुफ्त मिलेगी।

क्या : कस्बे में ठोस कचरा प्रबंधन की व्यवस्था नहीं।

क्यों : इसके अभाव में पंचायतों द्वारा कचरा सड़क किनारे डाला जा रहा है।

क्या : कपालमोचन, आदिबद्री पर्यटन स्थल विकसित होना चाहिए।

क्यों : सुधार होने पर जिले में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।

सोच समझ कर वोट दें : शशिकांत शर्मा

साढौरा के शशिकांत शर्मा कहते हैं कि सोच समझ कर ही वोट देना चाहिए। क्योंकि पांच साल बाद ही पसंद का प्रत्याशी चुनने का मौका मिलता है।

स्वास्थ्य सेवाओं पर ध्यान दें : मनीष सैनी

मनीष सैनी का कहना है कि ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं की बहुत कमी है। डाक्टर की भी कमी है। एक्सरे, सिटी स्केन व अल्ट्रासाउंड की भी व्यवस्था होनी चाहिए।

मिलनसार हो विधायक : हर्ष

हर्ष का कहना है कि हमें ऐसा विधायक चुनना चाहिए जो चुनाव के बाद भी लोगों से मिले। अक्सर चुनाव जीतने के बाद विधायक लोगों को पीछे-पीछे घुमाते हैं।

भाजपा प्रत्याशी : बलवंत सिंह

अधूरे कार्यों को प्राथमिकता से पूरा करेंगे।

परिवहन सेवाओं को दुरूस्त किया जाएगा।

जनता के बीच रह कर पांच साल सेवा करेंगे।

कांग्रेस प्रत्याशी रेणू बाला

बेरोजगारी दूर करेंगे।

शिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाएंगे।

महिला की सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी।

जजपा प्रत्याशी : : कुसुम शेरवाल

स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार किया जाएगा।

साढौरा में फिर से पंचायत बहाल करेंगे।

क्षेत्र के पिछड़ेपन को दूर किया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप