जागरण संवादददाता, यमुनानगर: औद्योगिक क्षेत्र में ही बिजली के लोहे के पोल नहीं लगे हैं। शहर की अधिकतर कॉलोनियों में ऐसे पोल लगे हैं, जिनमें अकसर करंट दौड़ता है। बारिश के सीजन में अंदेशा और बढ़ जाता है। इसके बावजूद बिजली निगम की ओर से इस तरफ ध्यान नहीं दिया जा रहा है। लोगों की ये दिक्कत मंगलवार को सामने आई। इस दौरान नजर आया कि ट्विन सिटी में पग-पग पर खतरे के पोल लगे हैं। 11.15 बजे राजा राम कॉलोनी

यहां सड़क किनारे गई पोल लगे दिखाई दिए। इनमें से अधिकतर लोहे के हैं। कॉलोनी निवासी विवेक ने बताया कि यहां बिजली के अधिकतर पोल लोहे के हैं। सीमेंट के नाममात्र हैं। लोहे के पोल में बारिश के सीजन में अक्सर करंट आने की शिकायत उनकी रहती है। इसकी शिकायत करने का भी कोई फायदा नहीं हुआ। इतना जरूर हुआ कि बिजली कर्मचारी दौरा करने आए। जल्द हटाने का भरोसा देकर चले गए। 12:15 बजे तेजली परिसर के समीप

तेजली खेल परिसर के पीछे लोहे के दो पोल लगे थे। इनमें से एक पोल थोड़ा झुका था। यहां कई तार ढीले भी थे। जो लटके थे। कॉलोनी निवासी राहुल ने बताया कि हवा के साथ तार टूट जाते हैं। इससे बिजली आपूर्ति घंटों बाधित रहती है। इन तारों कीे ठीक कराने में मशक्कत करनी पड़ती है। कारण है अधिकारी फोन तक नहीं उठाते हैं। इससे तार देरी में ठीक किए जाते हैं। 1:25 बजे कांलिदी कॉलोनी

यहां छात्रावास के नजदीक लोहे के चार पोल लगे हैं। कॉलोनी निवासी विक्रम, अजय ने बताया कि लोहे के पोल काफी समय से लगे हैं। एक तो छात्रावास के मोड पर है। दूसरा सड़क के साथ लगा है। बाकि पोल यहां सीमेंट के हैं। लोहे के पोल अब जर्जर अवस्था में है। इनको बदलने के लिए अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे। 1:45 बजे बीकेडी रोड

बूड़िया-खदरी-देवधर मार्ग पर पेट्रोल पंप के नजदीक सीमेंट का पोल दो माह से झुका है। सड़क से ऊंचाई कम रह गई। इसकी स्थिति देखकर लगता है कि अगर इसको ठीक नहीं किया गया तो गिर जाएगा। इससे तार सड़क पर गिरने का डर बना है। फैक्ट्री में कार्यरत पंकज ने बताया कि वे भी काफी समय से देख रहे हैं कि पोल झुका है। इस रास्ते से बिजली निगम के अधिकारी और कर्मचारी गुजरते हैं। इनका ध्यान इस तरफ नहीं जाता। अनदेखी राहगीरों को कभी भुगतना पड़ सकता है। एसडीओ सुखविद्र सिंह का कहना है कि इस पोल को जल्द दुरुस्त करा दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस