संवाद सहयोगी, साढौरा : अनाज मंडी में वाल्मीकि बस्ती की दीवार के साथ धान का कबाड़ जमा किए जाने से वाल्मीकि बस्तीवासियों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। नवीन, सतपाल व विक्रम ने बताया कि सारा दिन कई मजदूर इस कबाड़ से धान निकालने का काम करते हैं। जिससे उड़ती धूल वाल्मीकि बस्ती के घरों में जम जाती है। इसके कारण घरों में सफाई करने के बावजूद हमेशा गंदगी ही नजर आती है।

इस धूल के कारण लोगों का घरों में रहना दूभर हो गया है। यही नहीं इस धूल के कारण बस्तीवासियों को सांस लेने की दिक्कत, खांसी व जुकाम जैसे रोग हो रहे हैं। सतपाल, सुरेश व रमेश ने कहा कि यह मार्केट कमेटी ने इस कबाड़ को अनाज मंडी से उठाने का ठेका दिया हुआ है। लेकिन ठेकेदार इस कबाड़ को मंडी से उठाने की बजाए वाल्मीकि बस्ती की दीवार के साथ ही एकत्रित करके इसमें से धान निकालने के काम में जुटा हुआ है। मार्केट कमेटी को शिकायत किए जाने के बावजूद ठेकेदार को यहां से कबाड़ उठाने के लिए नहीं कहा जा रहा है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप