जासं, यमुनानगर : एंटी नारकोटिक्स सेल की टीम ने चोरी के आरोप में दुर्गा गार्डन निवासी कन्हैया व जितेंद्र उर्फ जीतू को पकड़ा है। आरोपितों से पूछताछ में दो वारदात का पर्दाफाश हुआ है। सेल के इंचार्ज जोगिद्र सिंह ने बताया कि उनकी टीम को सूचना मिली थी कि चिट्टा मंदिर रोड शांति कालोनी के पास कन्हैया व जीतू चोरी की फिराक में घूम रहे हैं। इस सूचना के आधार पर सब इंस्पेक्टर राम कुमार, एएसआइ राजेंद्र सिंह, जसवीर सिंह हैप्पी, अमित, पंकज व अमरजीत की टीम का गठन किया गया। टीम ने मौके पर जाकर वहां घूम रहे दोनों आरोपितों को पकड़ा। पूछताछ में सामने आया कि दोनों आरोपित नशे के आदी हैं। नशे की जरूरत को पूरा करने के लिए चोरी की वारदात करते हैं। दोनों आरोपितों ने 18 जनवरी को भारत सेवक नगर निवासी पंकज मल्होत्रा के घर से नकदी व जेवरात चोरी किए थे। इससे पहले कल्याणनगर निवासी इंद्रजीत के मकान का ताला तोड़कर नकदी व सामान चोरी कर लिया था। दोनों आरोपितों को कोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया। संवाद सहयोगी, बिलासपुर : सुखनगरी निवासी माया के पति गांव चाहडवाला बस स्टैंड पर टेंट का कार्य करते हैं। उनके पड़ोस में संजय नाम का युवक रहता है। आरोप है कि संजय तांत्रिक विद्या करता है। वर्ष 2021 में संजय द्वारा उसके बच्चों पर तांत्रिक विद्या करने का प्रयास किया था। इस बारे में आरोपित से बात की और पंचायत भी बुलाई। उस समय पंचायत के माध्यम से फैसला हो गया था। इसके बावजूद आरोपित संजय रंजिश रखने लगा।

आरोप है कि 12 जनवरी को संजय व उसके पिता ईश्वर ने माया देवी के घर पर पथराव किया था। मामले की पुलिस को शिकायत दी गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। 16 जनवरी को माया देवी व उसके परिवार के लोग घर पर थे। इसी दौरान संजय व उसका पिता ईश्वर और माता सलोचना गली में खड़े होकर उन्हें गालियां देने लगे। जातिसूचक शब्द कहे। आरोप है कि संजय ने गंदे इशारे किए। मामले की शिकायत पर बिलासपुर थाना पुलिस ने केस दर्ज किया है।

Edited By: Jagran