जासं, यमुनानगर : महलांवाली गांव में नौकरी न मिलने से आहत युवती ने जहर निगलकर जान दे दी। जिस वक्त युवती ने जहर निगला तब घर पर कोई नहीं था। नौकरी न मिलने से वह काफी दिन से मानसिक तौर पर परेशान थी।

महलांवाली गांव निवासी नरेंद्र कौर ने पुलिस को बताया कि उसकी बेटी 22 वर्षीय सहदीप कौर ने कुछ साल पहले बीएससी की थी। तब से वह नौकरी की तलाश में थी, परंतु कहीं भी उसे नौकरी नहीं मिल रही थी, इसलिए वह मानसिक रूप से परेशान रहने लगी। रविवार सुबह उसका पति पेपर मिल में अपने काम पर चला गया था। घर पर केवल सहदीप और वह थीं। सुबह वह भी पड़ोस में चली गई। कुछ देर बाद लौटी तो बेटी की तबीयत खराब थी। उसे अस्पताल में पहुंचाया गया। वहां उसकी मौत हो गई। अस्पताल के डॉक्टरों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। जांच अधिकारी एएसआइ जसबीर सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप