संवाद सहयोगी, रादौर : क्षेत्र के गांव लक्सीबांस में जलापूर्ति विभाग के ट्यूवबेल के ट्रांसफार्मर पर आसमानी बिजली गिर गई। जिससे ट्रांसफार्मर में आग लग गई। घटना की सूचना ग्रामीणों ने बिजली निगम व जलापूर्ति विभाग के अधिकारियों को दी। आरोप है कि सूचना के बाद भी जले ट्रांसफार्मर को ठीक करने के लिए कोई नहीं आया। जिससे गांव में पेयजल की समस्या बनी रही।

ग्रामीण सतीश कुमार, राजकुमार, दरबार सिंह, मेम सिंह ने बताया कि बुधवार की सुबह करीब साढ़े 10 बजे जलापूर्ति विभाग के ट्यूबवेल पर रखे ट्रांसफार्मर पर आसमानी बिजली गिर गई। जिसकी सूचना उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को दी। लेकिन शाम तक भी कोई भी अधिकारी व कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचा। जिससे ट्यूबवेल नहीं चल पाया। ऐसे में ग्रामीणों को अपने घरेलू कार्य निपटाने व पशुओं को पानी पिलाने में भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। पानी के प्रबंध के लिए ग्रामीण खेतों में लगे ट्यूबवेलों से पानी भरकर लाने पर विवश हैं। उन्होंने विभाग के उच्चाधिकारियों से समस्या के समाधान की मांग की है। उधर, जलापूर्ति विभाग के एसडीओ रवि नायक ने कहा कि मामला उनके संज्ञान में नहीं है। अगर ऐसा है तो वह मामले की शिकायत बिजली निगम को देगें। ट्रांसफार्मर ठीक होने के बाद ही ट्यूबवेल को जांचा जाएगा। अगर उसके बाद भी उसमें कोई समस्या है तो उसे तुरंत ठीक करवा दिया जाएगा। बरसात का पानी नींव में घुसा, मकान का लेंटर ढहा

संवाद सहयोगी, बिलासपुर : क्षेत्र में सुबह हुई बारिश से गांव अलीशेरपुर माजरा में एक मकान की नींव बैठ गई। जिससे मकान का लेंटर ढह गया। हालांकि जिस समय घटना हुई। उस समय मकान में कोई नहीं था। मकान मालिक चूहड़ सिंह ने बताया कि सुबह बारिश के समय वह मकान के एक कमरे में अपने परिवार के सदस्यों के साथ बैठे थे। कुछ ही देर में मकान के दूसरी ओर से धमाके की आवाज आई। वह तुरंत गए और देखा, तो मकान की छत का लेंटर नीचे गिरा हुआ है। बारिश का पानी मकान की नींव में घुसने से यह हादसा हुआ।

Edited By: Jagran