जागरण संवाददाता, यमुनानगर : बाकरपुर गांव के संजीव कांबोज ने गांव के ही संजीव व अन्य पर घर पर पथराव करने का आरोप लगाया है। आरोप है कि संजीव व उसके साथियों ने घर के बाहर खड़े उनकी मां, भाई अनिल और चाचा ब्रिजपाल को भी पीटा। उसमें उनकी दो कारों व घरों के शीशे टूट गए। बाद में पुलिस पहुंची, तो आरोपित वहां से भाग निकले। बताया जा रहा है कि संजीव कुमार ने संजीव कांबोज और अन्य पर एससी-एसटी का केस दर्ज कराया गया था। आरोप है कि जांच में यह साबित नहीं हुआ। इससे गुस्साए संजीव व अन्य ने उनके घर पर हमला बोला।

दरअसल, 10 अगस्त को बूड़िया थाना में संजीव कुमार की ओर से शिकायत दी गई थी। उसमें आरोप लगा था कि वह अपनी पत्नी के साथ जा रहा था। रास्ते में उसे संजीव कांबोज और उसके पिता जसपाल ने रोक लिया। उनके साथ मारपीट की और जातिसूचक शब्द कहे। इस मामले में केस दर्ज हुआ था। एससी-एसटी एक्ट की जांच डीएसपी देशराज कर रहे थे। जांच में यह आरोप साबित नहीं हुए थे। इसके बाद से ही आरोपित उनसे रंजिश रख रहे थे। इस संबंध में संजीव कांबोज की ओर से बूड़िया थाने में शिकायत दी गई है। पुलिस का कहना है कि अभी मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस