जागरण संवाददाता, यमुनानगर : किशोरी से दुष्कर्म केस में गहनता से जांच कर आरोपितों को सलाखों के पीछे पहुंचाने पर जांच अधिकारी एएसआइ जसविद्र कौर को एसपी कमलदीप गोयल ने सम्मानित किया। एसपी ने उन्हें नकद पुरस्कार व प्रशंसा पत्र दिया।

एसपी कमलदीप गोयल ने कहा कि 16 साल की किशोरी से दुष्कर्म केस में जांच अधिकारी जसविद्र सिंह ने सभी पहलुओं पर जांच की। एक-एक साक्ष्य जुटाया। जिससे कोर्ट ने आरोपित पर आरोप साबित किए और सोनू उर्फ काला को दोषी करार देते हुए 15 जुलाई को सात साल की सजा और पांच हजार रुपये का जुर्माना लगाया।

थाना छप्पर एरिया के एक गांव निवासी महिला ने पुलिस को शिकायत दी थी कि उसकी ननद की मौत हो गई थी। उसने अपनी ननद की बेटी को गोद ले लिया था। रात को सभी खाना खाकर सो गए थे। करीब 11 बजे जब उसकी आंख खुली तो उसने देखा कि बेटी बिस्तर पर नहीं हैं। इस पर उसने अपने पति को नींद से जगाया और बेटी की तलाश शुरू की। वे घर से कुछ दूर ही चले थे कि बेटी की रोने की आवाज आई। उन्होंने पास जाकर देखा कि बेटी जमीन पर पड़ी रो रही थी। जब उससे पूछा तो उसने बताया कि जब वह रात को शौच के लिए उठी तो घर पर गांव का सोनू उर्फ काला आ गया। वह उसके मुंह को दबाकर उसे जबरदस्ती घर से बाहर ले आया। उसने सुनसान जगह पर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। शिकायत पर पुलिस ने 19 मार्च 2019 को केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया था।

Edited By: Jagran