यमुनानगर, जागरण संवाददाता। यमुनानगर में सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश की कवायद शुरू हो गई है। इसके तहत सड़कों पर दौड़ रहे अनफिट व जुगाड़ वाहनों पर शिकंजा कसा जाएगा। बाइक व अन्य वाहनों में बदलाव कर जुगाड़ बनाए जा रहे हैं। यह सड़कों पर भारी वाहन लेकर चल रहे हैं। जिससे दुर्घटनाएं होती है। यदि यह कोई दुर्घटना कर भाग निकले तो इनकी पहचान तक नहीं हो पाती, क्योंकि यह कही भी रजिस्टर्ड नहीं है और न ही इन पर कोई नंबर होता है।

अभियान का असर

दैनिक जागरण भी सड़क सुरक्षा के तहत सड़कों पर दौड़ रहे अनफिट व जुगाड़ वाहनों के खिलाफ अभियान चला रहा है। ताकि सड़क दुर्घटनाओं पर रोक सके। अब इस दिशा में पुलिस भी सख्त हो गई है। एसपी मोहित हांडा ने सभी थाना प्रभारियों व यातायात थाना प्रभारियों को जुगाड़ वाहनों पर कार्रवाई के आदेश दिए हैं। जिससे इन पर पूरी तरह से रोक लग सके। 

बाइकों को काटकर या अन्य वाहनों में बदलाव कर जुगाड़ वाहन तैयार किए जा रहे हैं। जिनका प्रयोग सरिया, रेत, बजरी, सीमेंट व अन्य सामान ले जाने में किया जा रहा है। नियमानुसार किसी भी वाहन में बदलाव नहीं किया जा सकता। इसके बावजूद अवैध रूप से जुगाड़ वाहन जिले में चल रहे हैं। इन पर कोई कार्रवाई भी प्रशासन की ओर से नहीं की जाती। कही पर बाइक को आधी काटकर उसमें पीछे ट्राली जोडकर सामान ढोया जा रहा है, तो कही पर आटो को मोडिफाई कर सामान ढोया जा रहा है। यदि इनसे कोई दुर्घटना हो जाए तो यह आसानी से बच निकलते हैं। 

गांव से लेकर शहर तक में प्रयोग हो रहे जुगाड़ वाहन 

गांव से लेकर शहर तक में यह जुगाड़ वाहन प्रयोग हो रहे हैं। छोटे व्यापारी इन जुगाड़ का प्रयोग सामान ढोने में कर रहे हैं तो किसान खेतों से चारा लेकर आने या फिर गोबर ढोने में इनका प्रयोग कर रहे हैं। नियमानुसार यह जुगाड़ वाहन सड़क पर नहीं चल सकते। इन जुगाड़ वाहनों के संबंध में हाईकोर्ट में याचिका लगाई गई थी। जिस पर हाईकोर्ट ने इन जुगाड़ वाहनों के प्रयोग पर पूरी तरह से रोक लगाने के आदेश दिए हैं। 

चोरी की बाइकों का भी हो सकता है प्रयोग

जिले में बाइक चोरी की घटनाएं भी बढ़ रही है। इन जुगाड़ वाहनों में बाइक को आधी काटकर प्रयोग किया जा रहा है। ऐसे में इन बाइकों का नंबर तक नहीं रहता। जिससे यह भी अंदेशा है कि चोरी की बाइकों को काटकर जुगाड़ वाहन में प्रयोग किया जा रहा है। इसके लिए एसपी ने जुगाड़ वाहनों पर पूरी तरह से रोक लगाने के आदेश दिए हैं। साथ ही इन जुगाड़ वाहनों की रिपोर्ट एंटी व्हीकल थेफ्ट सेल को भेजनी होगी। जो जांच करेंगे कि इन जुगाड़ वाहनों में चोरी की बाइक का प्रयोग तो नहीं किया जा रहा है। 

अधिकारी के अनुसार

शहर यमुनानगर थाना प्रभारी कमलजीत सिंह ने बताया कि जुगाड़ वाहनों पर रोक लगाने के लिए पुलिस अधीक्षक के आदेश मिले हैं। ऐसे वाहनाें को जब्त कर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Naveen Dalal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट