जागरण संवाददाता, यमुनानगर : हरियाणा बैकवर्ड एवं मजदूर क्रांति मोर्चा व भ्रष्टाचार विरोधी मोर्चा ने नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर अखिल पिलानी को ज्ञापन सौंपा। प्रांतीय अध्यक्ष जयचंद चौहान प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे थे। ज्ञापन में अधिकारी व कर्मचारियों पर गंभीर आरोप लगाए गए। चौहान ने कहा कि लंबे समय से निगम के कर्मचारियों व अधिकारियों द्वारा ड्यूटी सही नहीं किए जाने से आमजन की दिक्कत बढ़ रही है। अत्यधिक मात्रा में प्रापर्टी टैक्स भेजा जा रहा है। जिसको भरे में लोग असमर्थ है। दो वर्ष से कोरोना महामारी से सभी लोग परेशान हैं। लाकडाउन के चलते काफी लोगों को रोजगार चला गया। आरोप है कि लोगों की निगम में सुनवाई नहीं होती है। उनको जानबूझ कर तंग किया जा रहा है, ताकि परेशान होकर वह कर्मचारी की सेवा कर सके। कुछ पाश इलाकों को छोड़कर अत्यधिक क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई हुई है। बरसात के मौसम में गंदगी से बीमारी फैल सकती है। हर माह निगम एरिया में सफाई पर दो करोड़ का खर्च होता है। उसके बाद भी सफाई के हालत ठीक नहीं है। इस मामले में की जांच की जाए। निगम क्षेत्र में हुए अवैध कब्जों पर तुंरत कार्रवाई होनी चाहिए। आरोप है कि अवैध कब्जों को कुछ कर्मचारी बढ़ा दे रहे हैं। मौके पर एडवोकेट सुभाष नागरा, नरेश कुमार अमित चंद देवीलाल राम रतन चौधरी थे । माफ किए जाए प्रापर्टी टैक्स

प्रतिनिधि मंडल की मांग है कि प्रापर्टी टैक्स माफ किया जाए। जिन लोगों को अधिक टैक्स के नोटिस भेजे गए हैं। उनको भी दुरूस्त किया जाए। आरोप है कि कुछ कर्मचारी अपनी ड्यटी ठीक तरह से नहीं कर रहे हैं। ऐसे कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

Edited By: Jagran