जागरण संवाददाता, यमुनानगर : जिला निर्वाचन अधिकारी मुकुल कुमार ने बताया कि विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दलों की ओर से प्राप्त की जाने वाली विभिन्न स्वीकृतियों के लिए निर्वाचन आयोग ने सुविधा एप स्थापित की गई है। इससे सभी प्रकार की चुनावी प्रक्रिया से जुड़ी स्वीकृतियां ऑन लाइन प्राप्त की जा सकती हैं।

चुनाव आयोग ने ऐसा प्रावधान किया है कि विधानसभा चुनाव में कोई भी व्यक्ति सी-विजिल एप से चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन की जानकारी दे सकता है। इस एप पर प्राप्त होने वाली शिकायतों और जानकारी पर कार्रवाई करने के लिए भी टीम का गठन किया गया है। सभी राजनीतिक दलों को चुनाव प्रचार के लिए एक जैसे अवसर मिलेंगे। जिला प्रशासन ने चारों विधानसभा क्षेत्रों साढौरा, जगाधरी, यमुनानगर और रादौर में चुनावी सभाएं करने तथा प्रचार सामग्री चस्पा करने के लिए स्थान निर्धारित कर दिए गए हैं। यह गतिविधियां केवल निर्धारित स्थानों पर ही की जा सकती है। इसके अलावा किसी अन्य स्थान पर जनसभा करने और चुनाव प्रचार सामग्री लगाने पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। जनसभा आयोजित करने से पहले सुविधा एप पर संबंधित रिटर्निंग अधिकारी से स्वीकृति प्राप्त करनी होगी।

जनसभाओं और प्रचार वाहनों पर लाउडस्पीकर का उपयोग प्रात: छह बजे से रात्रि 10 बजे तक किया जा सकता है। लाउडस्पीकर का उपयोग करने के लिए भी पूर्व अनुमति लेना जरूरी है। बिना अनुमति तथा निर्धारित अवधि के बाद लाउडस्पीकर का उपयोग करने पर चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन मानकर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि स्टार प्रचारकों के कार्यक्रम, रोड शो और अन्य बड़े आयोजनों के लिए भी अनुमति लेने के सथ समय से पुलिस को भी सूचित करना होगा, ताकि सुरक्षा व्यवस्था और यातायात प्रबंधन के उचित प्रबंध हो सके।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस