जागरण संवाददाता, यमुनानगर : प्लाईवुड व्यापारियों पर फंसी पेमेंट न मिलने से निराश लक्कड़ मंडी के आढ़तियों ने हड़ताल कर दी है। जगाधरी लक्कड़ मंडी के आढ़तियों ने सोमवार को न तो माल खरीदा और न ही आगे बेचा। जगाधरी लक्कड़ मंडी के प्रधान प्रमोद चौहान ने बताया कि 30 करोड़ रुपये की पेमेंट फंसी हुई है। जीएसटी तक उन्हें नहीं दी जा रही है। अब पैसे खत्म हो चुके हैं। ऐसे में आगे व्यापार करना मुश्किल हो रहा है। इसलिए ही यह हड़ताल की गई है।

इन दिनों प्लाईवुड व्यापार में मंदी छाई है। इसका सबसे अधिक असर आढ़तियों को झेलना पड़ रहा है। यमुनानगर और जगाधरी लक्कड़ मंडी के आढ़ती भी इससे जूझ रहे हैं। सोमवार को जगाधरी लक्कड़ मंडी के आढ़ती देव टिबर पर एकत्र हुए। यहां पर मीटिग में सभी ने निर्णय लिया कि जब तक फंसी पेमेंट नहीं मिलती है। आगे व्यापार नहीं किया जाएगा। नियमानुसार जीएसटी एक से 10 दिन के अंदर देने का नियम है, लेकिन यह भी कई महीनों तक नहीं मिलती। आढ़तियों को जेब से ही जीएसटी भरनी पड़ रही है। इसके अलावा माल की पेमेंट तो एक-एक साल से फंसी हुई है। यदि आगे से पेमेंट नहीं आएगी, तो आढ़ती कब तक अपनी जेब से देगा। इसलिए अब आढ़ती हड़ताल रखेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप