जेएनएन, यमुनानगर। सेल्फी लेने के शौक ने शिवनगर निवासी 15 वर्षीय सोनू की जान ले ली। वह रविवार को यार्ड में खड़ी मालगाड़ी के डिब्बे पर चढ़कर जैसे ही सेल्फी लेने लगा, उसका सिर हाईटेंशन लाइन से टच हो गया। एकदम से धमाका हुआ और वह झुलसकर वहीं गिर गया। उसके साथ आए मौसेरे भाइयों ने शोर मचाया तो आसपास के लोग पहुंचे। करीब चार घंटे बाद सहारनपुर रेलवे स्टेशन से टेक्नीकल टीम आई और उन्होंने कनेक्शन काटा। इसके बाद रस्सी के सहारे शव को उतारा गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जीआरपी एसएचओ सुरेश कुमार ने बताया कि सेल्फी लेते समय यह हादसा हुआ। इसमें 174 की कार्रवाई की गई है।

सुबह साढ़े छह बजे हुआ हादसा

सोनू की मौसी के लड़के साहिल ने बताया सुबह करीब साढ़े छह बजे सोनू मुझे और मेरे बड़े भाई 16 वर्षीय दीपक को साथ लेकर यार्ड की ओर से घुमाने के लिए ले गया। इस दौरान सोनू ने दीपक के हाथ से मोबाइल छीन लिया और यार्ड में चला गया। वहां पर मालगाड़ी खड़ी थी। वह गार्ड वाले डिब्बे से मालगाड़ी की छत पर पहुंच गया। उसके अगले डिब्बे की छत पर जाकर जैसे ही वह सेल्फी लेने के लिए खड़ा हुआ तो उसका सिर ऊपर से गुजर रहे बिजली के तार से लग गया। तुरंत धमाका हुआ और सोनू में आग लग गई। वह मालगाड़ी के डिब्बे की छत पर ही गिर पड़ा। काफी देर तक उसमें आग लगी रही। मैं और दीपक दोनों वहां से भागे और आसपास के लोगों को बताया।

दस दिन पहले यहां आए थे मौसी के लड़के

मृतक सोनू की मौसी पंजाब के पटियाला के गांव बहरुआ में रहती है। दस दिन पहले उसकी मौसी के लड़के साहिल और दीपक यहां पर आए थे। सोनू कैंप के एसके हाईस्कूल में नौवीं कक्षा में पढ़ रहा था। छुट्टियां होने पर वह अपनी मौसी के लड़कों के साथ अक्सर यार्ड की ओर ही घूमता था। उसके पिता रामचंद्र मूल रूप से उत्तरप्रदेश के जिला गोरखपुर के दादूपुर गांव के रहने वाले हैं। तीन दिन पहले ही वह गांव गए थे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप