जागरण संवाददाता, यमुनानगर : आयुष विभाग की ओर से राजकीय आयुर्वेदिक औषधालय खदरी में कोरोना वायरस (सीओवीआइडी-19) के बचाव के लिए जागरूकता व रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए निशुल्क औषधीय वितरण शिविर लगाया गया। यह शिविर जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ. सतपाल सिंह व युनानी चिकित्सा अधिकारी डॉ. विनोद पुंडीर की देखरेख में किया गया।

यूनानी चिकित्सा अधिकारी डॉ. विनोद पुंडीर ने कहा कि गिलोय व तुलसी के काढ़े और अदरक, हल्दी का प्रयोग करें तथा अणु तेल अथवा तिल के तेल की दो-दो बूंदे नाक में डाले। उन्होंने कहा कि आंख, नाक व मुंह को हाथ धोए बिना न छूए तथा साफ-सफाई पर विशेष ध्यान रखें।

आयुष विभाग के योग विशेषज्ञ डॉ. शिव कुमार सैनी ने कोरोना वायरस से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के उपाय बताते हुए कहा कि बेल, निम्बू व अमरूद के दस-दस पत्तों तथा जीवित प्राकृतिक आहार एवं अंकुरित अन्न जैसे मूंग, मौठ, काले चने, सोयाबीन का 50 से 100 ग्राम की मात्रा में नियमित सेवन करने से जीवन शक्ति का विकास होता है। इसके अलावा सूर्य नमस्कार, र्दीघ श्वसन, भस्त्रिका व भ्रामरी प्राणायाम व ध्यान का अभ्यास योग्य गुरू के दिशानिर्देशन में 30 से 45 मिनट प्रतिदिन प्रात:काल, खाली पेट करते रहने से हमारी रोग प्रतिरोधक शक्ति का प्रबल विकास होता है। शिविर में होम्योपैथिक चिकित्सा अधिकारी डॉ. मनीष वर्मा, आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी डॉ. जसविद्र सिंह ने 361 मरीजों की जांच की गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस