जागरण संवाददाता, यमुनानगर : आजादनगर के लोग नरकीय जीवन व्यतीत कर रहे हैं। गंदगी से परेशान लोगों का खुला कहना है कि उनकी सुध केवल चुनाव के दिनों में ली जाती है। उनके याद नहीं है कि उनकी गली और नाली की सफाई के लिए नगर निगम से कोई कर्मचारी आया हो। हालांकि बृहस्पतिवार को इस एरिया में स्पेशल टीम से सफाई कराने का दावा किया जा रहा है। उसके बाद भी यहां के हालतों में ज्यादा सुधार नहीं है।

सिटी विधायक घनश्याम दास अरोड़ा निगम मेयर मदन चौहान आजाद नगर में दौरा करने गए थे। लौटकर दावा किया यहां की एक से नौ तक गलियों को सफाई कर चकाचक करा दिया गया। यहां कराई सफाई का जायजा लेने के लिए दैनिक जागरण टीम ने दौरा किया। इस दौरान यहां पर कई गलियों में गंदगी मिली। नालियां भी जाम थी। लोग खुद घरों से बाहर आए। इन लोगों ने बताया कि गंदगी के कारण यहां रहना दुश्वार हो गया। लंबे समय के बाद सफाई कर्मियों के दर्शन अब हुए हैं।

सीवर लाइन है लेकिन पड़ी है बंद

प्रभावित लोग संध्या, अशोक, जसप्रीत आदि का कहना है कि गली नंबर एक व दो में काफी समय से सीवरेज लाइन है, लेकिन लाइन चलती नहीं है। ओवर फ्लो के कारण ज्यादा दिक्कत बढ़ जाती है, जिस कारण यहा के लोगों ने नालियों में ही खुले कनेक्शन किए हुए है, जिससे समस्या ज्यादा विकराल हो रही है। जसप्रीत का कहना है कि नाली की सफाई नहीं होने से कीड़े घरों में घुस जाते हैं। यहां के वातावरण में सांस लेने में दिक्कत होती है। बरसात के दिनों में नालियों का पानी सड़क पर बहता है। जिनके घर नीचे हैं, उनमें पानी घुस जाता है।

फोटो : 28बी

आजादनगर गली नंबर दो की जसप्रीत ने बताया कि घर के बाहर की नाली है। सफाई नहीं हो रही है। दो माह से ज्यादा का समय हो गया। नाली की सफाई तक नहीं की गई। नियमित सफाई नहीं होने से गंदगी से अटी पड़ी है।

फोटो : 28सी

गली नंबर एक की शांति का कहना है कि आपके सामने है सफाई व्यवस्था। उनको तो ये भी नहीं पता कि गली में कोई सफाई करने भी आया था। वे दुकान पर बैठती है। सुबह से यहीं है। उनकी दुकान के नजदीक कोई सफाई नहीं हुई है।

मेयर और विधायक को भी गिनाई समस्या

सफाई अभियान के दौरान मेयर मदन चौहान व विधायक घनश्याम दास अरोड़ा पहुंचे। इस दौरान कॉलोनी के लोगों ने उनके समक्ष क्षेत्र की समस्याएं रखी कि आजाद नगर की आबादी 20 हजार से अधिक है। सबसे बड़ी समस्या पानी की निकासी की है। पानी की निकासी नहीं होने से गलियों में पानी आ जाता है। खाली प्लाट गंदगी के कूड़ादान बने हुए है। स्ट्रीट लाइट न होने से क्षेत्र में हादसे होने का भय रहता है। टूटी नालियों से गलियों में गंदा पानी आता है। पेयजल की भी समस्या है। मेयर व विधायक ने लोगों की समस्याएं सुनकर तुरंत पब्लिक हेल्थ व नगर निगम अधिकारियों को उनकी समस्याओं का समाधान कराने के निर्देश दिए।

यह किया दोनों ने दावा

नगर निगम मेयर मदन चौहान द्वारा हाल ही में गठित 50 सफाई कर्मचारियों की स्पेशल टीम ने आजाद नगर में सफाई अभियान चलाया। सीएसआइ अनिल नैन के नेतृत्व में चलाए अभियान के तहत कर्मियों ने आजाद नगर की सभी 13 गलियों की पूरी तरह से सफाई कर खूब चमकाया। स्पेशल टीम के साथ वार्ड नंबर 10 में तैनात 27 कर्मचारियों ने भी सहयोग दिया। अभियान के दौरान मेयर मदन चौहान व विधायक घनश्याम दास अरोड़ा ने निरीक्षण किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस