जागरण संवाददाता, यमुनानगर :

लॉकडाउन में ऐसे लोगों को सबसे अधिक दिक्कत हो रही है। जो दिहाड़ीदार मजदूर हैं और रोजाना दिहाड़ी कर घर का गुजारा करते थे। अब ऐसे लोगों के लिए जागृति फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट खाद्य सामग्री मुहैया करा रही है। 25 मार्च से ट्रस्ट की ओर से लोगों को घर-घर जाकर खाद्य सामग्री दी जा रही है। अब तक करीब 500 परिवारों को वह खाद्य सामग्री वितरित कर चुके हैं।

संस्था के अमित भाटिया, सुरेंद्र मोहन, वीरेंद्र मित्तल, गौतम गर्ग, संदीप दुग्गल, मुकेश दाबड़ा, संजीव मेहता व डॉ. आलोक ने बताया कि लोगों को तैयार खाना भी दिया जा रहा है। यदि खाना तैयार नहीं होता, तो पैकेट दिया जाता है। पैकेट में पांच किलो आटा, एक किलो चीनी, एक किलो चावल, आधा लीटर सरसों का तेल, चायपत्ती, एक किलो दाल, दो किलो आलू, एक किलो नमक, 100 ग्राम हल्दी, 100 ग्राम मिर्च, एक साबुन, सर्फ दिया जा रहा है। कॉलोनियों से लोग उन्हें जरूरतमंद लोगों के बारे में सूचना भेजते हैं। इसके बाद टीम के मेंबर उनके घर तक पहुंचते हैं। उन्हें राशन दिया जाता है। जिन लोगों के पीले कार्ड बने हुए हैं, उन्हें राशन नहीं दिया जाता, क्योंकि उन्हें खाद्य एवं आपूर्ति विभाग से पहले ही राशन मिल चुका है।

हर रोज 300 लोगों को दिया जा रहा तैयार खाना :

जागृति फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट हर रोज 300 से 500 लोगों को तैयार खाना भी भिजवा रहा है। इसमें आलू, पूरी, पुलाव, अचार, दाल, सब्जी होती है। ट्रस्ट के सचिव अमित भाटिया ने बताया कि हर रोज जितना खाना तैयार होता है। उसे लोगों तक भिजवाया जाता है। यदि खाना तैयार नहीं होता, तो पैकेट में राशन भिजवा दिया जाता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस