जागरण संवाददाता, जगाधरी वर्कशॉप: एशिया की सबसे बड़ी रेलवे वर्कशॉप में अब बरसाती पानी व्यर्थ नहीं बहेगा। न ही जल भराव की स्थिति पैदा होगी। रेलवे ने वर्कशॉप परिसर में 75 हजार रुपये की लागत से 600 क्यूबिक की क्षमता वाला रेन हार्वेस्टिंग लगा लिया है। जल भराव के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ता था। अब इससे निजात मिलगी। रेलवे बोर्ड मेंबर मैटीरियल मैनेजमेंट वीपी पाठक ने उद्घाटन किया। मुख्य कारखाना प्रबंधक आरके संगर ने बताया कि रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाया है।

बरसात के दिनों में यहां जल जमा रहता है। वैगन शॉप में कर्मचारियों को काम करने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। गीले होने से औजारों से सही से काम नहीं कर पाते। उनकी भी काफी समय से मांग थी। उनकी मांग पर गौर करते हुए यहां रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने की दिशा में कार्य शुरू किया गया। कर्मियों का ये भी कहना है कि इससे जल संरक्षित होगा। जो रेलवे वाशिग आदि में प्रयोग कर सकेगा। अभिकल्प भवन भी तैयार

रेलवे वर्कशाप में अभिकल्प भवन भी बनाया है। यहां अधिकारी वर्ग मीटिग ले सकेंगे। इसका उदघाटन भी वीपी पाठक ने किया। अभी तक इतना बड़ा हॉल उपलब्ध नहीं था। इसके बनने के बाद ये कमी भी दूर हो गई। उप मुख्य सामग्री प्रबंधक श्वेतकेतु ने डिपो की उपलब्धियां बताई। वर्ष 2019 में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए जगाधरी वर्कशॉप को उत्कृष्ट भंडार डिपो शील्ड, स्क्रैप निष्पादन के लिए भी सम्मानित किया गया।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप