संवाद सहयोगी, जगाधरी :

पुराना बिलासपुर रोड पर बरसात की वजह से टूटी इंटरलाकिग सड़क में नगर निगम टीम ने मिट्टी भरने का काम शुरू कर दिया। दैनिक जागरण ने 31 जुलाई को बरसात का पहला सीजन नहीं झेल पाइ इंटरलाकिग सड़क, अनेक जगह से टूटी शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया था। जिसके बाद नगर निगम के अधिकारी हरकत में आए और उन्होंने आनन फानन में सड़क पर बने गड्ढों में मिट्टी भरने का काम शुरू कर दिया। काम बीच में छोड़ा तो कीचड से होगी समस्या :

नगर निगम टीम ने शनिवार को पुराना बिलासपुर रोड पर बने गड्ढों में मिट्टी तो डाल दी, लेकिन उस पर इंटरलाकिग टाइलें नहीं बिछाई। बरसात के बाद मिट्टी कीचड़ में तब्दील हो जाएगी। जिसके बाद राहगीरों की समस्या पहले से ज्यादा बढ़ जाएगी। क्षेत्रवासी महेश, नीरज, गीता, बबीता, जीराम, महिपाल शर्मा का कहना है कि नगर निगम टीम मिट्टी का लेवल कर साथ ही टाइलें बिछा देती, तो कुछ हद तक राहगीरों को राहत मिल सकती थी। लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। गड्ढों किनारें पड़ी टाइलें बन रहीं हादसे का सबब :

जडौदा निवासी राहगीर प्रिस व रमेश के मुताबिक पुराना बिलासपुर रोड पर गड्ढों के किनारे पड़ी इंटरलाकिग टाइलें हादसे का सबब बन रही है। गड्ढे से बचाव के चक्कर में कई बार वाहन चालक इन टाइलों से जा टकराता है। जिस कारण गिरकर चोटिल हो जाते हैं। शुक्रवार रात को वे भी इस वजह से हादसे का शिकार हो गए। इसके अलावा सड़क पर स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था न होने से राहगीरों की मुश्किलें बढ़ी हुई है। वर्जन:

कर्मचारियों को हिदायत दी गई है कि जहां पर सड़क टूटी हैं, उसकी मरम्मत करें, ताकि राहगिरों को परेशानियों का सामना न करना पड़े। अंकित लोहान, एक्सईएन, नगर निगम।

Edited By: Jagran