जागरण संवाददाता, यमुनानगर : गाबा अस्पताल के कर्मचारी बिना बिल के डायलिसिस सेट बेच रहे हैं। जिससे अस्पताल प्रबंधन को चूना लग रहा है। एक युवक को गाबा अस्पताल के कर्मियों ने पकड़ा। जिसने अस्पताल के ही डायलिसिस विभाग इंचार्ज चंद्रभान व टेक्नीशियन जस्सी से यह सेट लेने की बात कही। शहर यमुनानगर थाना पुलिस ने अस्पताल के कर्मी राहुल बेदी की शिकायत पर केस दर्ज किया है।

पुलिस को दी शिकायत के मुताबिक, मूल रूप से राजस्थान के जिला जयपुर के कस्तूरबा नगर निवासी राहुल बेदी गाबा अस्पताल में तैनात है। दोपहर करीब डेढ़ बजे उनके पास डा. रिपूदमन सिंह का फोन आया कि कोई अजनबी युवक बैग में कुछ समान चोरी करके ले जा रहा है। जिस पर इस लड़के को पकड़ लिया। उसके बैग की तलाशी ली गई, तो बैग से 16 डायलिसिस सेट मिले। युवक ने पूछताछ में बताया कि वह संतोष अस्पताल में कार्य करता है और उसे डायलिसिस इंचार्ज अनिल से समान लेने के लिए भेजा गया था। उसने यह सामान गाबा अस्पताल के डायलिसिस विभाग के इन्चार्ज चंद्रभान व टेक्नीशियन जस्सी से लेने की बात कही। जांच में सामने आया कि यह डायलिसिस सेट बिना बिल के दिए गए हैं। पुलिस ने केस दर्ज किया। सैर करने के लिए निकली महिला से बालिया छीनने का प्रयास

रादौर :सोमवार की सुबह गाव अलाहर में सैर करने के लिए निकली एक महिला से दो युवकों ने बालिया छीनने का प्रयास किया, लेकिन किसी तरह महिला बच निकली और वहा से गाव का पालेवाला पहुंच गई। इस दौरान महिला गिरकर घायल भी हो गई। बालिया छीनने का प्रयास करने वाले युवक मौके से फरार हो गए।

गाव अलाहर निवासी वीरेंद्र काम्बोज ने बताया की उसकी पत्नी सुषमा व गाव की अन्य महिलाएं सुबह सैर के लिए गाव पालेवाला मार्ग पर जाती हैं। सोमवार को सुषमा जब सैर कर रही थी तो गाव पालेवाला के पास उसके पास मोपेड सवार दो युवक आकर रुके और कुछ पता पूछने लगे। जैसे ही वह उन्हें पता बताने लगी तो एक युवक उसके कानों की बालिया छीनने की कोशिश करने लगा। जिसके बाद उसकी पत्नी अपने बचाव के लिए गाव पालेवाला की ओर भागी। वहा एक युवक को सारी घटना बताई। उन्होंने बताया की इस दौरान उसकी पत्नी गिरकर घायल भी हो गई।

Edited By: Jagran