संवाद सहयोगी, छछरौली : छछरौली क्षेत्र की महिला ने अपने पति पर तलाक दिए बिना दूसरी शादी करने का आरोप लगाया है। शिकायत पर छछरौली थाना पुलिस ने तीन महिलाओं सहित 11 लोगों पर विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया।

गांव डमौली निवासी अंजो देवी ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि साल 2017 में गांव गनौली निवासी गुरमीत कुमार ने उसे अपने प्रेम जाल में फंसाया। इसके बाद गुरमीत ने उसको दो साल तक बिना शादी किए अपने घर पर रखा और जल्द ही शादी करने की बात कही। इस साजिश में उसका भाई अमित, मां संतोष, पिता जय सिंह भी शामिल थे। काफी दबाव बनाने के बाद एक जून 2019 को मोहड़ी के एक मंदिर में आरोपित ने उससे शादी कर ली। छह जून को हाई कोर्ट में उन्होंने शादी रजिस्टर्ड करवाई थी। उसके बाद आरोपित उसे किसी अन्य जगह लेकर चला गया था और उसके साथ किराये के मकान पर रहने लगा। कुछ दिन बाद आरोपित उसे वहीं छोड़कर चला गया। जब उसने फोन करके पूछा तो उसे धमकाते हुए कहा कि मेरा तेरे साथ कोई संबंध नहीं है और तू अपने घर पर चली जाओ। आरोपित ने उसे धमकाया कि अगर इसकी शिकायत पुलिस को दी तो है वह उसके परिवार को जान से मरवा देगा। महिला ने आरोप लगाया कि जब उसने इसकी शिकायत पुलिस को दी तो पुलिस ने जबरन स्टांप पेपर पर हस्ताक्षर करवा लिए और उसे कहा कि उसका गुरमीत के साथ कोई रिश्ता नाता नहीं रहा। उस दौरान वह गर्भवती थी। 10 दिसंबर 2020 को उसने एक लड़के को जन्म दिया। उसके बाद आरोपित उसके साथ रहने लगा। जिसके बाद उसे पता चला कि पति गुरमीत ने 26 मई को अंबाला की एक महिला से शादी कर ली है, जबकि गुरमीत ने उसे अभी तक तलाक नहीं दिया है। जब उसने इसका विरोध जताया तो गुरमीत ने उससे मारपीट की और इसकी शिकायत करने पर उसके बच्चे को जान से मारने की धमकी दी। परेशान होकर महिला ने इसकी शिकायत एसपी को दी।

एसपी के आदेश पर छछरौली पुलिस ने संतोष, रानी, पालो, गुरमीत, जय सिंह, अमित, हरिचंद, मैसू, टीटू, सुभाष, सतपाल पर केस दर्ज कर लिया।

Edited By: Jagran