जागरण संवाददाता, सोनीपत: दिसंबर के आगमन के साथ ही सर्द मौसम ने दस्तक दे दी है। बुधवार को दिनभर बादल छाए रहने और घना स्माग होने से धूप नहीं निकली। विशेषज्ञों के अनुसार इस सप्ताह मौसम खराब रहने और बारिश पड़ने का पूर्वानुमान जारी किया है। घना स्माग होने से लोगों को सावधान रहने और मास्क लगाने की गाइडलाइन जारी की गई हैं। उम्मीद की जा रही है पांच-छह दिसंबर में हल्की बारिश के बाद प्रदूषण नियंत्रित हो सकेगा।

मौसम ने दिसंबर के पहले दिन लोगों को सर्दी का अहसास कराया। सुबह से ही बादल और स्माग छाया रहा। इससे दिनभर धूप नहीं निकली। धूप नहीं निकलने और ठंडी हवा चलने से मौसम सर्द हो गया। न्यूनतम तापमान भी दो डिग्री सेल्सियस गिरकर 11 पर पहुंच गया। वहीं अधिकतम तापमान में भी कर्मी आइ। यह तीन डिग्री सेल्सियस कम होकर 23 पर पहुंच गया। विशेषज्ञों के अनुसार पूरे सप्ताह मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान है। तीन दिसंबर की रात से ही पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव पड़ना शुरू हो जाएगा। चार और पांच दिसंबर को कुछ क्षेत्रों में हल्की बूंदा-बांदी होने का पूर्वानुमान है। छह दिसंबर को भी मौसम परिवर्तनशील रहेगा। दिन .................. तापमान

बुधवार .................. 11/23बृहस्पतिवार ................13/23

शुक्रवार .................. 14/23

शनिवार .................. 13/25

रविवार .................. 10/22 फिर बढ़ा प्रदूषण: दो दिन की राहत के बाद बुधवार को प्रदूषण का स्तर फिर से खतरनाक श्रेणी में पहुंच गया। हवा चलने और धूप निकलने के बाद सोमवार और मंगलवार को प्रदूषण काफी कम हो गया था। एक्यूआइ भी सुधरकर 200 तक पहुंच गया था। वहीं बुधवार को तापमान में कमी होने से प्रदूषण कर परत घनी हो गई। विशेषज्ञों ने प्रदूषण के चलते मास्क लगाकर निकलने और पानी ज्यादा पीने की सलाह दी है। वायु गुणवत्ता सूचकांक ............ 310

पीएम-10 ..................... 435

पीएम 2.5 .................... 340

कार्बन मोनो आक्साइड ............ 70 दिसंबर के पहले सप्ताह में मौसम परिवर्तनशील रहेगा। पश्चिमी विक्षोभ के चलते हल्की बारिश होने, बादल छाने और तेज हवा चलने का पूर्वानुमान है। इसके साथ ही सर्दियों का आगाज हो जाएगा। हल्की बारिश से ही मौसम खुशनुमा हो जाएगा। यह गेहूं की फसल के लिए अच्छा रहेगा।

- प्रेमदीप सिंह, मौसम विज्ञानी, कृषि विज्ञान केंद्र, सोनीपत

Edited By: Jagran