जागरण संवाददाता, सोनीपत :

रेलवे स्टेशन पर जेबकतरों से यात्री और अधिकारी दोनों परेशान हैं। जेबकतरों ने मंगलवार रात प्लेटफॉर्म पर स्टेशन अधीक्षक का सरकारी मोबाइल ही पार कर दिया। इसके साथ ही चार यात्रियों की जेब काटकर पर्स चुरा लिया। स्टेशन अधीक्षक का सरकारी मोबाइल चोरी होने के बाद जीआरपी में हड़कंप मचा है। जीआरपी मामले की जांच कर रही है।

स्टेशन अधीक्षक गजेंद्र सिंह मंगलवार रात 10 बजे प्लेटफॉर्म संख्या एक पर व्यवस्था देख रहे थे। यात्रियों की भीड़भाड़ के चलते वह प्लेटफॉर्म संख्या एक पर खड़े थे। उस समय दो ट्रेनें एक साथ स्टेशन पर आ गईं। ट्रेनें जाने के बाद दो यात्री उनके पास पहुंचे और जेब से पर्स चोरी होने की शिकायत की। स्टेशन अधीक्षक गजेंद्र सिंह ने जीआरपी प्रभारी को बुलाने के लिए मोबाइल निकालने के लिए जेब में हाथ डाला तो उन्हें पता चला कि उनका मोबाइल किसी ने उड़ा लिया है। सूचना मिलने पर जीआरपी को दी गई। इसी बीच दो यात्री और जेब कटने की शिकायत लेकर वहां पहुंच गए।

जेबकतरे से मोबाइल लौटाने का आग्रह किया

इसी दौरान जीआरपी प्रभारी ने प्लेटफॉर्म पर चेकिग अभियान चलाया, लेकिन कोई पकड़ में नहीं आ सका। स्टेशन अधीक्षक का मोबाइल रात डेढ़ बजे तक चालू रहा। जेबकतरे से स्टेशन अधीक्षक और जीआरपी के जवानों ने मोबाइल या सरकारी सिम लौटाने का कई बार आग्रह किया, उसको रुपयों का लालच भी दिया गया लेकन उसने झांसे में न आने की बात कहकर रात डेढ़ बजे मोबाइल स्विच ऑफ कर दिया। जेबकतरे यात्रियों को लगातार निशाना बना रहे हैं। मंगलवार रात मेरा सरकारी मोबाइल जेब से चुरा लिया गया। कई बार आग्रह के बावजूद जेबकतरे ने मोबाइल नहीं लौटाया। शिकायत दे दी गई है। मोबाइल सर्विलांस पर लगवाया गया है।

-गजेंद्र सिंह, स्टेशन अधीक्षक, सोनीपत

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप