संवाद सहयोगी, गोहाना : शुगर फेडरेशन ने गांव आहुलाना स्थित चौ. देवीलाल सहकारी शुगर मिल को चीनी बेचने की मंजूरी दे दी है। मिल को करीब 88.50 हजार क्विटल चीनी बेचने की अनुमति दी गई है। मिल प्रशासन से चीनी बेचने के लिए हिमाचल प्रदेश में संपर्क साधने शुरू कर दिए हैं।

शुगर फेडरेशन ने सहकारी चीनी मिलों को चीनी बेचने की मंजूरी दी है। सभी मिलों के लिए अलग-अलग कोटा निर्धारित किया गया है। गांव आहुलाना स्थित चौ. देवीलाल सहकारी शुगर मिल में करीब 2.31 लाख क्विंटल चीनी स्टॉक में है। मिल के पास चीनी का कुछ स्टॉक पुराने सीजन का भी बचा हुआ है। फेडरेशन ने इस शुगर मिल को 88.50 क्विटल चीनी बेचने का कोटा दिया है। इससे मिल को करीब 31 करोड़ रुपये की आय होगी।

यह चीनी बिकने के बाद भी मिल के पास करीब 1 लाख 46 हजार 41 क्विटल चीनी का स्टॉक बच जाएगा। मिल के अधिकारियों के अनुसार करीब 45 हजार क्विटल चीनी हिमाचल प्रदेश को बेची जाएगी। इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। फेडरेशन से चीनी बेचने के लिए इस बार सबसे ज्यादा कोटा आहुलाना चीनी मिल को दिया है। शुगर फेडरेशन ने चीनी बिक्री की अनुमति दी है। मिल प्रशासन हिमाचल प्रदेश में चीनी बेचने की तैयारी कर रहा है, जिसके लिए व्यापारियों से संपर्क स्थापित किए जा रहे हैं।

- आशीष वशिष्ठ, एमडी, चौ. देवीलाल चीनी मिल, आहुलाना

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप