जासं, सोनीपत : मुरथल स्थित दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (डीसीआरयूएसटी) के शैक्षणिक अधिष्ठाता प्रो. राजकुमार ने कहा कि स्टूडेंट इंडक्शन प्रोग्राम वर्तमान समय की मांग है। इस प्रोग्राम के बाद विद्यार्थियों को नए वातावरण के साथ तालमेल बैठाने में मदद मिलेगी। वह विवि में फैकल्टी के लिए आयोजित साप्ताहिक स्टूडेंट इंडक्शन प्रोग्राम की कार्यशाला के उद्घाटन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। कार्यशाला में प्रो. प्रतिभा चौधरी विशिष्ट अतिथि रहीं।

प्रो. राजकुमार ने कहा कि जब नवागंतुक विद्यार्थी इंजीनियरिग कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में प्रवेश लेते हैं तो उस समय उनके सामने विभिन्न प्रश्न खड़े होते हैं। विद्यार्थियों को कई बार अपनी पसंद का कॉलेज और ब्रांच नहीं मिलती। इससे विद्यार्थी को तनाव का सामना करना पड़ जाता है। इसी के मद्देनजर कार्यशाला का आयोजन किया गया है, जिसमें शिक्षकों को ट्रेनिग दी जाएगी ताकि वे अपने शिक्षण संस्थान में जाकर विद्यार्थियों के विकास में अहम योगदान दे सकें।

कार्यशाला में केरल, जम्मू-कश्मीर, उत्तर प्रदेश, झारखंड, पंजाब, हरियाणा व दिल्ली के विभिन्न शिक्षण संस्थानों के 58 प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं। इस मौके पर प्रो. जेएस सैनी, प्रो. सुमन सांगवान, डॉ. पवन दहिया, डॉ. दिनेश सिंह, प्रो. आरके सोनी, प्रो. सुखदीप सिंह, खेल निदेशक डॉ. बीरेंद्र सिंह हुड्डा, डॉ. पूनम श्योराण, डॉ. संजू सैनी, डॉ. रोहतास धीमान आदि मौजूद रहे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप