सोनीपत, जागरण संवाददाता। थाने से सौ गज की दूरी पर छात्रों के दो गुटों में बुधवार सुबह खूनी संघर्ष हुआ। डंडे और तलवार लहराते पहुंचे 20-22 छात्रों ने दूसरे पक्ष के तीन छात्रों पर हमला बोल दिया। दो छात्र भाग निकले जबकि एक शराब ठेके के पास पहुंचकर गिर गया। उसको डंडों से पीटने के साथ ही सिर पर तलवार से हमला कर दिया, जिससे वह लहूलुहान हो गया। छात्र के साथियों ने दौड़कर सिविल लाइन थाने पर सूचना दी। इससे हमलावर तलवार व डंडे लहराते हुए भाग गए।

पुलिस ने घायल छात्र को अस्पताल में भर्ती कराया है। बुधवार सुबह करीब 11 बजे सुभाष चौक पर उस समय हंगामा मच गया, जब पंजाबी तड़का वाली गली से शोर मचाते और डंडे-तलवार लहराते 20-22 छात्र सड़क पर आ गए। उनको देखते ही चौराहे पर खड़े तीन छात्रों ने भागने का प्रयास किया, लेकिन सुभाष पार्क के सामने उन पर हमला कर दिया गया। दो छात्र हमलावरों से बचकर एटलस रोड की ओर भाग गए, जबकि एक छात्र को शराब ठेके के पास जाकर गिर गया। हमलावरों ने उस पर डंडों से हमला कर दिया। वहीं छात्र के सिर पर तलवार से हमला किया गया जिससे छात्र लहूलुहान हो गया।

इस दौरान छात्र के साथी दौड़कर थाने में पहुंच गए। वहीं चौक पर लोगों ने पुलिस आने का शोर मचा दिया। इस पर हमलावर छात्र गली में से होकर भाग निकले। हमलावरों के भाग जाने पर पहुंची पुलिस: सुभाष चौक पर छात्रों के दोनों गुटों में टकराव व विवाद करीब 10 मिनट तक चला। हमलावरों के भाग जाने के करीब पांच मिनट पहुंची पुलिस टीम ने आरोपितों को तलाश किया, लेकिन कहीं पर पता नहीं लग सका। घायल छात्र ने बताया कि वह मोई गांव का रहने वाला सचिन है। वह कोचिंग करने के लिए आता है। हमलावर छात्रों में चार-पांच नैना-ततारपुर के रहने वाले हैं। वह दो दिन से मारने की धमकी दे रहे थे।

छात्रों को नहीं था पुलिस का डर

सिविल लाइन थाने से महज 100 गज की दूरी पर 20-22 छात्र डंडे व तलवार लेकर घूमते रहे। आसपास के दुकानदारों ने इसकी जानकारी पुलिस को भी दी। बेखौफ छात्रों को पुलिस का डर नहीं था। वह पंजाबी तड़का वाली गली में खड़े हो गए। जैसे ही कच्चे क्वार्टर की ओर से तीन छात्र वहां पर पहुंचे तो हमलावरों ने उनको घेर लिया। पुलिस पहले ही मौके पर पहुंचती तो टकराव को टाला जा सकता था।

  • छात्रों के दो गुटों में मारपीट की जानकारी मिली है। पुलिस टीम ने आरोपितों की तलाश की, लेकिन वह भाग गए। अभी घायल छात्र के पक्ष से शिकायत नहीं मिली है। शिकायत मिलने पर रिपोर्ट दर्ज कर आरोपितों पर यथोचित कार्रवाई की जाएगी। सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई थी। पुलिस की ओर से कोई देरी नहीं की गई। - इंस्पेक्टर सवित कुमार, एसएचओ थाना सिविल लाइन,

Edited By: Pradeep Kumar Chauhan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट