जागरण संवाददाता, गोहाना: नगर परिषद (नप) गोहाना सदन की बैठकों में शहर के विकास के लिए जो काम मंजूर हो चुके हैं उन्हें सिरे चढ़ाने के लिए प्रस्ताव तैयार करेगी। इसके साथ शहर के लोगों की मांग के अनुसार नए कामों के भी प्रस्ताव तैयार किए जाएंगे। अधिकारियों ने कनिष्ठ अभियंताओं का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए हैं। प्रस्ताव तैयार करके मुख्यालय भेज कर बजट की मांग की जाएगी।

बजट के अभाव में गोहाना में करीब छह माह से नए विकासकार्य शुरू नहीं हो पा रहे हैं। पहले से चल रहे कई प्रोजेक्टों के काम भी रुके हैं। इस मुद्दे को जागरण सिटी सोनीपत में मंगलवार को- बजट के अभाव में शहर में शुरू नहीं हो पा रहे विकास कार्य, पुराने रुके की हेडिग के साथ प्रमुखता से उठाया। नगर परिषद के अधिकारियों ने इस पर संज्ञान लेते हुए अपने अभियंता और कनिष्ठ अभियंताओं को सदन की बैठकों में मंजूर हो चुके कामों के प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही अधिकारी लोगों की मांग के अनुसार भी कामों के प्रस्ताव तैयार करेंगे। प्रस्तावों को मुख्यालय भेज कर बजट की मांग की जाएगी। अधिकारी मरम्मत कार्यों के साथ, नगर परिषद कार्यालय में मीटिग हाल बनाने, सेक्टर सात के साथ रविदास छात्रावास का काम पूरा करवाने और अन्य कामों के लिए प्रस्ताव तैयार करके मुख्यालय भेजेंगे। वहीं अधिकारी स्टेडियम व पार्क के काम पूरा करवाने के लिए बजट की मांग कर चुके हैं। नगर परिषद अपनी आय बढ़ाने पर भी देगी जोर

नगर परिषद खुद की आय बढ़ाने पर भी जोर देगी। शहर के लोगों से बकाया प्रापर्टी टैक्स ब्याज के साथ वसूला जाएगा। इसके लिए अभियान चलाया जाएगा। अधिकारी आय बढ़ाने के दूसरे विकल्पों को भी तलाशेंगे। इसके साथ सरकार, मंत्रियों और सांसदों से भी विकास के लिए बजट की मांग की जाएगी। अधिकारियों को विकासकार्यों के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। दो सप्ताह में प्रस्ताव तैयार करने होंगे। मुख्यालय से नए विकास कार्यों के लिए बजट की मांग की जाएगी। पहले के कामों को पूरा करवाने के लिए मुख्यालय से बजट की मांग की जा चुकी है। नगर परिषद खुद की आय बढ़ाने का प्रयास करेगी।

- राजेश वर्मा, सचिव, नगर परिषद गोहाना

Edited By: Jagran