जागरण संवाददाता, सिरसा : रानियां थाना क्षेत्र के गांव चक्कां में जमीन विवाद में एक युवक को जबरन जहर पिलाने का मामला सामने आया है। मृतक युवक अशोक के भाई अजय ने आरोप लगाया कि उसके दादा, दो चाचा व एक चाची ने उसके भाई को जबरदस्ती जहर पिला दिया। इसके बाद उसके भाई को गंभीरावस्था में सामान्य अस्पताल में लाया गया, जहां से उसे अग्रोहा रेफर कर दिया गया। उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। इस मामले में रानियां थाना पुलिस ने मृतक युवक के दादा रामस्वरूप, चाचा राधेश्याम, हनुमान व चाची खजानी देवी के खिलाफ भादंसं की धारा 302,328,34 के तहत अभियोग दर्ज किया है।

पुलिस को दी शिकायत में अजय निवासी चक्कां ने बताया कि उसका छोटा भाई अशोक (21 वर्षीय) था। उसके पिता वेदपाल के सिर पर चोट लगने के कारण वह दिमागी तौर पर ठीक नहीं रहते। बीती 22 नवंबर की सुबह को वह अपने पिता को मोटरसाइकिल पर पर खेत से लेकर हमारे घर आया। इस दौरान उसकी चाची खजानी पत्नी राधेश्याम अपने घर की तरफ जा रही थी। उसके भाई अशोक कुमार प्लाट के पास शौचालय के लिए खोदी गई कुई के समीप गिरा हुआ था। अजय ने आरोप लगाया कि उसके दादा रामस्वरूप, चाचा राधेश्याम ने उसके भाई अशोक को अपने हाथों से दबा रखा था। उसका चाचा हनुमान उसके भाई के मुंह में कुछ डाल रहा था। जब उसने एकदम वहां मोटरसाइकिल रोका तो उसे देखकर वे तीनों वहां से भाग गए।

उसने आरोप लगाया कि उसकी चाची खजानी ने कहा कि इसको भी पिला दो। अजय ने बताया कि जब उसने अपने भाई को संभाला तो उसने कहा कि मुझे बचा लो। इन सभी ने मिलकर मुझे जहर पिला दिया है। यह सूचना सुनकर उसकी मम्मी  कमला देवी भी वहां आ गई। जिसके बाद उसके भाई को रानियां के सरकारी अस्पताल ले जाया गया। जहां से उसे सिरसा ले गया।

बाद में उसकी गंभीरावस्था को देखते हुए उसे अग्रोहा रेफर कर दिया। अग्रोहा में उपचार के दौरान 23 नवंबर की सुबह को उसके भाई की मौत हो गई। शिकायतकर्ता अजय ने आरोप लगाया कि रंजिश की वजह यह हे कि वे अपने दादा से उनके हिस्से आता दादा लाई हक मांगते हैं परंतु उसका दादा उसके दोनों चाचों के साथ्ज्ञ मिलकर हमारा हक नहीं दे रहा। वर्ष 2015 से वे उनके साथ रंजिश रखते आ रहे हैं। रानियां थाना पुलिस ने अभियोग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Edited By: Manoj Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट