जेएनएन, सिरसा। चौपटा थाना क्षेत्र के गांव गुसाईआना में सोमवार मध्यरात्रि दो व्यक्ति महिला की चिता की राख से तंत्र क्रिया करते पकड़े गए। महिला के परिजनों ने उन्हें कागदाना पुलिस चौकी के हवाले कर दिया। आरोपितों के खिलाफ चौपटा थाने में केस दर्ज किया गया है।

गुसाईआना गांव निवासी साहबराम ने बताया कि 3 अप्रैल को उसकी पत्नी संतोष की हार्ट अटैक से मृत्यु हो गई थी। गांव के श्मशान में उसका अंतिम संस्कार किया गया था। सोमवार शाम को जब वे पानी देने के लिए श्मशान गए तो वहां देखा कि चिता की अस्थियों और राख से किसी ने छेड़छाड़ कर रखी थी। इस पर उन्होंने रात में श्मशान में पहरा देने का निर्णय लिया।

साहबराम ने बताया कि उसने परिवार के पांच छह युवकों को साथ लेकर श्मशान से कुछ दूरी पर बने मकान की छत पर बैठकर पहरा दिया। सोमवार रात करीब 12 बजे एक बोलेरो गाड़ी आई, जिसमें चार लोग सवार थे। तांत्रिक और गांव का ही युवक श्मशान में पहुंचे। आरोपित तांत्रिक पूरी तरह नग्न था और उसने चिता के पास पहुंच कर मिठाई, शराब, पूजा सामग्री रखी। इसके बाद वह चिता के पास काफी सारी चवन्नियां बिछाकर उन पर बैठ गया और चिता की राख पर इधर-उधर लुढ़कने लगा।

इस पर परिवार के सदस्यों के साथ साहबराम मौके पर पहुंचा। उनको देखकर बोलेरो सवार मौके से फरार हो गए। उन्होंने तांत्रिक देवदास निवासी दौलतपुर और गांव के ही रघुवीर उर्फ रूघा को पकड़ लिया। सूचना के बाद पहुंची कागदाना चौकी पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

तंत्र सिद्धियां हासिल करने के लिए कर रहा था पूजा

आरोपित तांत्रिक देवदास ने ग्रामीणों के बीच स्वीकारा कि वह तंत्र सिद्धियां हासिल करने के लिए श्मशान में पूजा कर रहा था। देवदास ने बताया कि वह लगातार दूसरे दिन आया था और तीन दिन तक आना था। रघुवीर भी तांत्रिक कार्यों में उसका सहयोग करता है। उसने अपनी ढाणी में कुटिया बनाकर तांत्रिक को ठहराया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस