जागरण संवाददाता, सिरसा : जिले में कोरोना संक्रमण पर काफी हद तक काबू पा लिया गया है। वर्तमान में जिले में मात्र 10 ही एक्टिव केस है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा सैंपलिग का कार्य लगातार जारी है और दो लाख 9130 लोगों के सैंपल लिये जा चुके हैं। बुधवार को दो नए संक्रमित मिले जबकि 11 को डिस्चार्ज किया गया। जिले में अब तक 8041 संक्रमित मिल चुके हैं, इनमें से 7915 स्वस्थ हो चुके हैं। सिविल सर्जन डा. कृष्ण कुमार का कहना है कि कोरोना संक्रमण को रोकने में हम काफी हद तक सफल रहे हैं। कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर भी जिले में हेल्थ वर्कर्स खूब उत्साह दिखा रहे हैं। इसके बावजूद अभी लापरवाही बरतना घातक हो सकता है। संक्रमण से बचने के लिए मुंह पर मास्क , हाथों की सफाई व दो गज की दूरी आवश्यक है। -------- जिले में कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों में उत्साह देखा जा रहा है। बुधवार को नागरिक अस्पताल में एक सेशन बनाया गया, जहां सरकारी व निजी अस्पतालों का स्टॉफ वैक्सीन लगवाने के लिए पहुंचे। बुधवार को नागरिक अस्पताल में 67 हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन लगाई गई। जिले में 6533 हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन लगाए जाने का लक्ष्य रखा गया है। अब तक जिले में हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन लग चुकी है। पहले चरण में जिले में 7320 कोविशिल्ड वैक्सीन डोज आई थी। जिनमें से विभाग पहले आधे हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन लगाकर दूसरी डोज सुरक्षित रखना चाह रहा था परंतु बुधवार को 7320 डोज और पहुंच चुकी है। जिसके चलते स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्धारित लक्ष्य को लेकर वैक्सीनेशन पर जोर दिया जाएगा। --------------- 4 फीसद वैक्सीन हो जाती है खराब वैक्सीनेशन के दौरान यह भी सामने आया है कि करीब 4 फीसद वैक्सीन खराब भी हो जाती है, जिन्हें बायो मेडिकल वेस्ट के तरीके से नष्ट किया जाता है। एक पैकिग में 10 डोज रहती है तथा एक बार पैकिग खोलने के चार घंटों तक वैक्सीन लगाई जा सकती है। स्वास्थ्य विभाग का प्रयास रहता है कि दो तीन हेल्थ वर्कर्स के एक साथ आने पर ही वैक्सीन लगाई जाती है। गर्भवती महिलाओं व छोटे बच्चों को स्तनपान करने वाली महिलाओं को वैक्सीन नहीं लगाई जा रही। ---------- 31 से चलेगा पोलियो प्रतिरक्षण अभियान स्वास्थ्य विभाग पोलियो प्रतिरक्षण की तैयारियों में जुट गया है। जिले में एक लाख 49 हजार नौनिहालों को पोलियो ड्राप्स पिलाई जानी है। इसके लिए 31 जनवरी को अभियान चलाकर पोलियो बूथ पर बच्चों को ड्राप्स पिलाई जाएगी। इसके बाद जो बच्चे दवा पीने से वंचित रह जाएंगे उन्हें एक व दो फरवरी को घरों में जाकर दवाई पिलाई जाएगी। ----------- वैक्सीनेशन अभियान के तहत अब तक जिले में 3708 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। जिले में 6533 हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग 31 से पोलियो प्रतिरक्षण अभियान चलाएगा, उसके बाद फिर से जिले भर में वैक्सीनेशन को लेकर ड्राइव शुरू होगा। - डा. बालेश बांसल, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021