संवाद सहयोगी, नाथूसरी चौपटा:

हिसार-घग्घर ड्रेन सेमनाला शनिवार को गांव शक्कर मंदोरी के पास फिर टूट गया। सेमनाला में आई दरार को पाटने के लिए देर शाम तक कर्मचारी लगे हुए है। सेमनाला टूटने पर उपायुक्त अनीश यादव व सिचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता आत्माराम भांभू भी मौके पर पहुंचे। ग्रामीण अपने स्तर पर दरार पाटने का कर रहे हैं प्रयास

सेमनाला शुक्रवार को भी टूट गया था जिसे बांध दिया गया। इसके बाद शनिवार शाम को फिर सेमनाला टूट गया। ग्रामीण अपने स्तर पर ट्रैक्टर ट्रालियों से नाले में हुए कटाव को बंद करने में जुटे हुए हैं। गांव शक्कर मंदोरी के पास शाहपुरिया और शक्करमंदोरी के बीच में सेम नाले में करीब 20 फीट चौड़ी दरार आ गई है जिससे साथ लगते खेतों में खड़ी ग्वार, बाजरे, कपास की सैकड़ों एकड़ फसल जलमग्न हो गई है। किसानों का कहना है कि अगर इस दरार को जल्द ही नहीं बांधा गया तो पानी शाहपुरिया गांव में भी घुस सकता है।

----

सेम नाले में क्षमता से अधिक पानी होने से शक्करमंदोरी के पास से टूट गया। नाले में आई दरार को बंद करने का प्रयास किया जा रहा है।

आत्मराम भांभू, अधीक्षक अभियंता, सिचाई विभाग, सिरसा

-------------

उपायुक्त ने सेमनाला का किया निरीक्षण

संवाद सूत्र, नाथूसरी चौपटा :

उपायुक्त अनीश यादव ने शुक्रवार को चौपटा क्षेत्र से गुजरने वाले सेमनाला का निरीक्षण किया। सेमनाला में गांव शाहपुरिया के पास शनिवार को भी रिसाव हो गया। ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत के रिसाव ठीक किया। उन्होंने सिचाई विभाग के अधिकारियों को सेमनाला से पानी निकासी को लेकर निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जहां भी तटबंध कमजोर है वहां पर मजबूत किए जाए। इसी के साथ उन्होंने खेतों में हुए जलभराव का निरीक्षण किया। गौरतलब है कि चौपटा में एक दर्जन से अधिक गांवों में सेम की समस्या है। पिछले दिनों हुई बारिश से फसलों में जलभराव हो गया इससे सेमनाला भी जगह जगह पानी ज्यादा होने से ओवरफ्लो हो रहा है।

Edited By: Jagran