संवाद सहयोगी, डबवाली: उर्वरक क्षेत्र की शीर्ष सहकारी संस्था इफको द्वारा डबवाली क्षेत्र के सहकारी बिक्री केंद्रों के प्रभारियों व पैक्स प्रबंधकों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें उपमंडल कृषि अधिकारी डा. अजय यादव थे। अध्यक्षता केंद्रीय सहकारी बैंक सिरसा के महाप्रबंधक सुरेंद्र भादू ने की। कार्यक्रम में क्षेत्र के करीब 100 प्रभारियों ने भाग लिया।

उपमंडल कृषि अधिकारी डा. अजय यादव ने पीओएस मशीन के माध्यम से खाद बिक्री करने का निर्देश देते हुए कहा कि सरकार की मंशा किसान तक प्रत्यक्ष लाभ पहुंचाने की है। उन्होंने चेताया कि जो पीओएस मशीन के माध्यम से बिक्री नहीं करेगा उसका लाइसेंस खत्म कर मशीन वापस ले ली जाएगी। उन्होंने कहा कि धान की पराली न जलाने के लिए किसानों को जागरूक करें। उन्होंने कहा कि जैविक उर्वरकों के इस्तेमाल से फसल उत्पादन में वृद्धि होती है व पर्यावरण संरक्षित होता है, इसलिए इसको प्रयोग को बढ़ावा दे। केंद्रीय सहकारी बैंक सिरसा के महाप्रबंधक सुरेंद्र भादू ने सभी को पराली न जलाने की शपथ दिलाई एवं कहा कि पर्यावरण को बचाना हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है। एक हेक्टेयर में पराली न जलाकर यदि हम खेत में उसको सड़ाते हैं तो प्रति एकड़ चार-पांच हजार का उर्वरक बचा सकते हैं। उन्होनें किसानों को सहकारी विभाग की योजनाओं की जानकारी भी दी। पूर्व चेयरमैन कुलदीप जम्मू ने किसानों की समस्याओं व निदान में सहकारिता व कृषि विभाग को सहयोग करने के लिए कहा। गैर मौसमी वर्षा से हुए फसल को नुकसान को फसल बीमा क्लेम कराने को कहा। ये उपस्थित रहे। इस मौके पर इफको डबवाली के उपप्रबंधक एवं कार्यक्रम के आयोजक पवन कुमार सारस्वत, फल उत्कृष्टता केंद्र मांगेआना के विषय विशेषज्ञ अमर ¨सह पूनिया, इफको के हर्ष कुमार, फतेहाबाद के मुख्य क्षेत्रीय प्रबंधक बहादुर राम, राधे राम सहारण, रणजीत ¨सह सावंतखेड़ा, शुभम कुमार, विनोद कुमार व नीरज गुप्ता मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस