जागरण संवाददाता, सिरसा : डूबने से होने वाली मौत का आंकड़ा कम करने के लिए नहर विभाग चिह्नित डेंजर्स प्वाइंट पर रस्सी लगवाएगा। दोनों किनारों पर कड़े के सहारे बंधने वाली रस्सी डूबते व्यक्ति को बचाने का काम करेगी। हालांकि यह प्रयोग के स्तर पर केवल पांच स्थानों पर लगाई जाएगी और प्रयोग सफल रहा तो उसे अन्य डेंजर्स प्वाइंट पर भी लगाया जाएगा। इससे पहले मई में नहर विभाग ने डेंजर्स प्वाइंट पर चेतावनी बोर्ड लगवाए थे जहां नहर में नहाना मना किया गया था। नहर विभाग की ओर से यह कदम प्रदेश के कई जिलों में डूबने से होने वाली मौत को देखते हुए फिर से उठाया गया है। सिरसा में 10 ऐसे स्थान ऐसे हैं जहां कई बार ऐसे हादसे हुए हैं। नहर में नहाते समय युवा डूब गए हैं। हालांकि नहरों में नहाना वर्जित है लेकिन फिर भी युवा मान नहीं रहे हैं। ऐसी स्थिति में नहर विभाग ने पंचायतों का सहारा लेने का फैसला किया है। गांव में मुनियादी करवाई जाएगी कि नहर में न नहाएं यह प्रतिबंधित है। इन स्थानों पर होते हैं हादसे

नोहर फीडर, शेरांवाली नहर, रोड़ी ब्रांच, ओटू फीडर, भाखड़ा मैन ब्रांच, बरूवाली तथा राज कैनाल इन नहरों में दस ऐसे प्वाइंट हैं जहां पानी का बहाव तेज व गहरा है जहां डूबने का खतरा अधिक है। सिरसा में नहरों में डूबने से कई मौत हो चुकी है। डेंजर्स प्वाइंट की पहचान कर बोर्ड लगवाए गए थे। कुछ स्थानों पर बोर्ड गायब है। अब प्रशासन द्वारा तीन स्थानों पर रस्सी लगाई जाएगी ताकि नहर में डूबने की स्थिति में रस्सी के सहारे बाहर निकल सके। यह प्रयोग के तौर पर करके देखेंगे।

- आत्माराम भांभू, अधीक्षण अभियंता , नहर विभाग।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस