भागलपुर। जेएलएनएमसीएच के सर्जरी विभाग के पूर्व अध्यक्ष की मौत बुधवार को आइसीयू में कोरोना से हो गई। इसके अलावा शहर में पहली बार होम क्वारंटाइन में रहने वाली इस्लामनगर की 50 वर्षीय महिला की भी मौत हुई। अबतक कोरोना से 53 लोगों की मौत हो चुकी है।

स्थानीय हनुमान नगर निवासी वरीय चिकित्सक को मंगलवार को अस्पताल में डॉ. विनय कुमार की यूनिट में भर्ती किया गया था। उन्हें किडनी रोग, बीपी और मधुमेह भी था। ऑक्सीजन की मात्रा लगातार कम हो रही थी। डॉक्टरों ने उन्हें पहले रेफर भी कर दिया था, लेकिन फिर भर्ती कर डॉक्टर की टीम इलाज में जुटी रही। बुधवार को उनकी मौत हो गई। उनके पुत्र शहर में ही हड्डी रोग विशेषज्ञ हैं।

शहरी क्षेत्र में पहली बार कोरोना से संक्रमित महिला की मौत हुई है जो घर में रहकर इलाज करवा रहीं थीं। स्वास्थ्य अधिकारी की रिश्तेदार भी थीं। हालत खराब होने पर मंगलवार की रात को जेएलएनएमसीएच के आइसोलेशन वार्ड में लाया गया तो डॉक्टर ने मृत घोषित किया।

बरहपूरा इस्लामनगर की 50 वर्षीय महिला की तबीयत खराब थी। कोरोना के भी लक्षण थे। एक सप्ताह से घर में इलाज करवा रहीं थीं। मंगलवार को सदर अस्पताल में जांच कराई गई तो पॉजिटिव मिली। जांच करवाने के बाद महिला घर चली गई। रात करीब 11.30 बजे तबीयत खराब हुई तो उसे टीटीसी केविड सेंटर में लाया गया। वहां से उसे एंबुलेंस से जेएलएनएमसीएच भेजा गया। डॉ. मोईउद्दीन ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। शव को स्वजनों को सौंप दिया गया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस