जागरण संवाददाता, सिरसा : घग्घर नदी में लगातार जलस्तर घट रहा है। सरदूलगढ़ पंजाब क्षेत्र में घग्घर में दो हजार क्यूसेक पानी का बहाव है। वीरवार तक घग्घर में पानी बहाव बिल्कुल कम हो जाएगा। घट रहे जलस्तर को देखते हुए नहर विभाग ने ओटू वीयर से राजस्थान को छोड़े जाने वाले पानी की आपूर्ति बंद कर दी है और अब सिरसा की नहरों को ही पानी मिलेगा।

बता दें कि घग्घर में कई दिनों से लगातार पानी चल रहा है। 18 हजार क्यूसेक के करीब पानी नदी में पहुंचा है। अधिक पानी होने के कारण ओटू वीयर से राजस्थान के लिए पानी छोड़ दिया गया लेकिन बुधवार शाम को जलस्तर घटकर ओटू में तीन हजार क्यूसेक रह गया जिसके बाद राजस्थान के पानी को रोकने का फैसला किया गया। घग्घर से सिरसा की दस नहरें जुड़ी हुई हैं और यहां चार लाख एकड़ भूमि में घग्घर के पानी से सिचाई की जाती है। सौ गांवों से अधिक के खेतों में घग्घर का पानी पहुंचता है।

कैचमेंट एरिया में फिर हुई बारिश, बहती रहेंगी नहरें

नहर विभाग के अधिकारियों के अनुसार बुधवार को पंचकुला व पीछे पहाड़ी क्षेत्र में जोरदार बारिश हुई है। यह पानी तीन दिन बाद सिरसा पहुंचेगा। लेकिन इस दौरान कुछ पानी चल रहा है और कुछ ओटू में स्टोर हैं जिससे सिरसा की नहरों में पानी दिया जा सकेगा। इसके बाद पंचकुला व अन्य जगह हुई बारिश का पानी सिरसा तक पहुंचेगा। अधिकारियों के अनुसार पंचकुला व अन्य क्षेत्रों में बारिश नहीं होती तो सिरसा में नहरें बंद हो जाती है लेकिन अब नहरें चलती रहेंगी।

-------

घग्घर में पानी दो हजार क्यूसेक के करीब रह गया है इसलिए पहली आवश्यकता सिरसा की नहरों को चलाने की है। गुहला चीका में ही पांच फीट पानी है लेकिन अब बढ़ना शुरू हो गया है। पीछे बारिश होने से अब सिरसा की नहरें लगातार चल पाएंगी।

- एआर भांभू, अधीक्षण अभियंता नहरी विभाग।

Edited By: Jagran