जागरण संवाददाता, सिरसा : राज्य कमेटी के आह्वान पर नगर परिषद सिरसा के प्रांगण में अग्निशमन व सफाई कर्मचारियों ने संयुक्त रूप से दो दिवसीय भूख हड़ताल बुधवार से शुरू की। कार्यक्रम की अध्यक्षता नगर पालिका के जिला प्रधान मनोज कुमार अटवाल व अग्निशमन विभाग से राजेश खिचड़ ने संयुक्त रूप से की। पहले दिन भूख हड़ताल पर हरजिद्र सिंह उपप्रधान फायर यूनियन, राजेंद्र सिंह, मान सिंह, आजाद, राजाराम, रमेश, कुलदीप, मग्गा राम, अरुण बैठे। इस मौके पर मनोज कुमार व राजेश खिचड़ ने संयुक्त रूप से बताया कि राज्य कमेटी के आह्वान पर 28 व 29 अक्टूबर को दो दिवसीय भूख हड़ताल की जाएगी। अगर इसके बाद भी सरकार ने 25 अप्रैल व 17 अगस्त 2020 को हुए समझौते लागू नहीं किए तो आगामी 8 नवंबर को नगर निकाय मंत्री अनिल विज का घेराव किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार बार-बार कर्मचारियों से वायदा खिलाफी कर रही है, जिसका खामियाजा उसे आगामी समय में बखूबी भुगतना पड़ेगा। कर्मचारी शांतिपूर्ण तरीके से अपनी आवाज को उठा रहे हैं, लेकिन सरकार कर्मचारियों को आंदोलन के लिए मजबूर कर रही है। इस मौके पर नरेश कुमार ब्लॉक प्रधान सिरसा व महासचिव अरुण सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित थे। --- ये हैं कर्मचारियों की प्रमुख मांगें:

विगत 25 अप्रैल व 17 अगस्त के फैसले को तुरंत प्रभाव से लागू किया जाए। 4 हजार रुपये जोखिम भत्ता लागू किया जाए। कोरोना से कर्मचारी की मृत्यु पर 50 लाख रुपये विशेष सहायता राशि दी जाए। ठेका प्रथा को समाप्त किया जाए। छंटनी ग्रस्त कर्मचारियों को ड्यूटी पर वापस लिया जाए। कच्चे कर्मचारियों को पक्का किया जाए। सफाई कर्मचारी, सीवरमेन हेंड सीवरमेन, सफाई दरोगा तथा तृतीय व चतुर्थ श्रेणी के नए पद सृजित किए जाएं। समान काम समान वेतन दिया जाए। फायर विभाग में रोल पर आए 1366 फायरमैन व फायर चालकों को स्वीकृत पदों पर समायोजित किया जाए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस