संवाद सहयोगी, ओढां : गांव ख्योंवाली स्थित रविदास धर्मशाला में संत कबीर आश्रम के महंत सतपाल दास के सानिध्य में महात्मा बुद्ध जयंती हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। इस मौके पर ग्रामीणों ने महात्मा बुद्ध की प्रतिमा पर माल्यार्पण करके उन्हें नमन किया। महंत सतपाल दास ने बताया कि बुद्ध के जन्म के बाद एक भविष्य वक्ता ने राजा शुद्धोधन से कहा था कि यह बालक चक्रवर्ती सम्राट बनेगा। लेकिन यदि वैराग्य भाव उत्पन्न हो गया तो इसे बुद्ध होने से कोई नहीं रोक सकता और इसकी ख्याति समूचे संसार में अनंतकाल तक कायम रहेगी। राजा शुद्धोधन सिद्धार्थ को चक्रवर्ती सम्राट बनते देखना चाहते थे इसीलिए उन्होंने सिद्धार्थ के आसपास भोग-विलास का भरपूर प्रबंध कर दिया ताकि किसी भी प्रकार से वैराग्य उत्पन्न ना हो सके। बस यही गलती शुद्धोधन ने कर दी और सिद्धार्थ के मन में वैराग्य उत्पन्न हो गया और वो महात्मा बुद्ध बन गए। इस अवसर पर रामजी लाल आईतान, अध्यापक सतीश बीरट, रमन बीरट, मेनपाल बीरट, दयाराम बैनीवाल, राजकुमार इतकान, कृष्ण बूमरा, महेंद्र रोलन, योगेश पंवार, सुनील जलंधरा, मनोहर भाटिया, सतबीर बीरट उपस्थित रहे। सिरसा, विज्ञप्ति : महात्मा बुद्ध योग संस्थान सिरसा द्वारा रेलवे पार्क में महात्मा बुद्ध जयंती पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। सर्वप्रथम संस्थान के सदस्यों ने पार्क में महात्मा बुद्ध की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए श्रद्धासुमन अर्पित किए। संस्थान के संस्थापक नरेंद्र योगी ने महात्मा बुद्ध के जीवन-परिचय पर अपने विचार प्रकट किए और लोगों से महात्मा बुद्ध के दिखाए रास्ते पर चलने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि आमजन की सेवा में अधिक से अधिक समय व्यतीत करना चाहिए। योगी ने बताया कि योग संस्थान द्वारा भविष्य में शहर के सभी स्कूलों में दो दिवसीय कार्यक्रम के तहत जाकर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियां करवाई जाएंगी। 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस स्थानीय रेलवे पार्क में मनाया जाएगा, जिसमें सभी प्रतिभागियों को योगा मेट नि:शुल्क संस्था द्वारा दिया जाएंगे। इस मौके पर संस्थान के प्रधान अश्वनी बंसल, सचिव जगदीश मेहता, विजय सोनी, सरिता सोनी, नवदीप, विरेंद्र नागपाल, प्रिया सेन, सरोज गोयल, साक्षी, माही और मोहित जग्गा उपस्थित थे।

Edited By: Jagran