जागरण संवाददाता सिरसा : मानसून से पूर्व ही अच्छी बारिश हो गई। धान की रोपाई का समय भी शुरू हो गया है। कृषि विभाग ने धान की रोपाई करने के लिए समय निर्धारित किया हुआ था। किसान धान की सीधी बिजाई कर मुनाफा कमा सकते हैं। धान की खेती के लिए कृषि विभाग ने 15 जून की डेट लाइन निर्धारित की थी। सिरसा में हर वर्ष करीबन 82 हजार हेक्टेयर भूमि में धान की खेती की जाती है।

---------

सीधी बिजाई के लिए विभाग कर रहा है जागरूक

कृषि विभाग के अधिकारी धान की जगह दूसरी फसल बिजाई करने व धान की सीधी बिजाई करने के लिए जागरूक भी कर रहे हैं। धान की मशीन से सीधे बिजाई के लिए किसानों का रुझान भी बढ़ रहा है। कृषि विभाग के निरंतर प्रयास जारी रखे और इन्हीं प्रयासों के बदौलत अब किसान मशीन से धान की सीधी बिजाई विधि को अपना रहे हैं। इस विधि के तहत खेत में पहले से पानी भरकर नहीं रखना पड़ता और नमी वाली भूमि में ही सीधे मशीन से बिजाई कर दी जाती है।

---

अच्छे से तैयार करे खेत

धान की बिजाई से पहले किसान खेत को अच्छे तरीके से तैयार करें। किसान धान की सीधे तौर पर बिजाई कर सकते हैं। इससे 20 से 30 फीसद तक पानी की बचत होती है जो आज की सबसे बड़ी आवश्यकता है। इससे धान की रोपाई के लिए मजदूरी कम लगती है। जिससे किसानों को आर्थिक तौर पर लाभ होता है। कृषि विभाग के उपनिदेशक डा. बाबूलाल ने बताया कि धान की बिजाई का समय शुरू हो गया। किसान धान की सीधी बिजाई कर सकते है। इससे धान की रोपाई करने में मजदूरों की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। इससे धान की फसल लेने में आर्थिक लागत भी कम आएगी।

Edited By: Jagran