संवाद सहयोगी, ऐलनाबाद : गांव काशी का बास में शराब पीने वाले को लेने पहुंची नशा मुक्ति केंद्र मसीतां हेड की टीम के सदस्य पर नशा पीड़ित व्यक्ति राधा कृष्ण ने लोहे की राड पर हमला कर दिया। हमले में सिर पर गंभीर चोट आई, जिसके कारण उसे उपचार के लिए निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

ऐलनाबाद थाना पुलिस को दी शिकायत में राजस्थान के पीलीबंगा की पंडिता वाली ढाणी निवासी शालीग्राम ने बताया कि वह उम्मीद नशा मुक्ति केंद्र मसीता हेड पर काम करता है। बीती 22 सितंबर को गांव काशी का बास से रूस्तम नामक व्यक्ति ने फोन किया। उसने बताया कि गांव में राधा कृष्ण नामक व्यक्ति शराब पीने का आदी है। उसके परिवार वाले उसे नशा मुक्ति केंद्र में छोड़ना चाहते हैं। इस फोन काल के बारे में नशा मुक्ति केंद्र संचालक पृथ्वीराज को सूचना दी गई। जिस पर पृथ्वीराज ने उसे, अमन व रोहताश निवासी भुकरका को गांव काशी का बास में भेजा। शाम सवा पांच बजे वे राधा कृष्ण के घर पहुंचे तो राधा कृष्ण के परिवार वालों से बातचीत करने के बाद फार्म भरने लगे तो राधा कृष्ण ने वहां रखी लोहे की राड़ से रोहताश के सिर पर वार किया जिसे बड़ी मुश्किल से छुड़वाया। बाद में उसे सिरसा के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां रोहताश की हालात अभी भी गंभीर बनी हुई है। उपनिरीक्षक राम पाल सिंह मामले की जांच कर रहे हैं।

Edited By: Jagran