जागरण संवाददाता, सिरसा : बुधवार दोपहर एचएसवीपी स्थित जलघर में सिलेंडर से क्लोरिन गैस का रिसाव शुरू हो गया, जिससे हड़कंप मच गया। ऑप्रेटर से काबू नहीं पाया गया तो उसने तुरंत दमकल विभाग को सूचना दी। दमकल विभाग की गाड़ी ने तुरंत मौके पर पहुंचकर पानी की बौछार कर गैस रिसाव पर काबू पाया। बुधवार दोपहर करीब दो बजे अचानक वातावरण में धुआं सा फैलने लगा, हालांकि उस समय हो रही बूंदाबादी से इसका प्रभाव ज्यादा नहीं हुआ। बाद में मालूम हुआ कि एचएसवीपी स्थित मिनी वाटर वकर्स में क्लोरिन गैस का रिसाव होना पाया गया। ऑप्रेटर रमेश पानी में क्लोरिन गैस मिला रहा था कि अचानक वाल्व ज्यादा खुल जाने के कारण वह उस पर काबू नहीं पा सका। काफी मशक्कत करने के बाद भी जब गैस पर काबू नहीं पाया गया तो उसने दमकल विभाग को सूचना दी। दमकल की गाड़ी ने तुरंत मौके पर पहुंचकर गैस रिसाव पर काबू किया। गैस पर काबू पाने के दौरान दमकल कर्मियों ने मुंह पर रूमाल बांधकर बचाव कार्य किया, ताकि गैस का असर ना हो। वहीं गैस की चपेट में आने से रमेश की हालात बिगड़ गई, जिसे उपचार के लिए नागरिक अस्पताल लाया गया। जलघर के खुले इलाके में होने के कारण गैस का दुष्प्रभाव नहीं हुआ साथ ही उस समय हो रही बूंदाबादी भी काफी मददगार रही। क्लोरिन गैस के सिलेंडर से गैस लीकेज हुई थी। यह सिलेंडर 900 किलोग्राम का होता है तथा गैस पानी शुद्ध करने के काम आती है। गैस नुकसानदेय हो सकती है तथा इसके प्रभाव से व्यक्ति बेहोश हो सकता है। परंतु समय रहते गैस रिसाव पर काबू पा लिया गया।

पीआर कंबोज, एसडीओ, जनस्वास्थ्य विभाग

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप