वन्य जीव निरीक्षक की शिकायत पर नाथूसरी चौपटा थाना में दर्ज हुआ केस जागरण संवाददाता, सिरसा : गांव बरासरी के खेतों में मृत मिली मादा नीलगाय की हत्या के मामले में नाथूसरी चौपटा थाना पुलिस ने छह लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। सभी व्यक्ति खेतों में पशुओं से रखवाली का काम करते हैं। ग्रामीणों ने दो रखवालों पर गोली मारकर हत्या करने का संदेह जताया है। थाना में दी गई शिकायत में वन्य जीव निरीक्षक परमजीत ने बताया कि गांव बरासरी में कृष्ण कुमार के बाजरे खेत में नीलगाय मृत मिली थी। जिसका डाक्टरों की टीम द्वारा पोस्टमार्टम करवाया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नीलगाय की गोली से मारने की पुष्टि हुई। स्थानीय लोगों ने मनीराम, बिट्टू, जोरा राम, रमेश, शीशपाल पर गोली मारने का अंदेशा जताया था। उन्होंने कहा कि ये सभी लोग गांव बरासरी में रह रहे हैं। टोपीदार बंदूक से चलाई है गोली

वन्य जीव निरीक्षक परमजीत ने बताया कि नीलगाय पर टोपीदार बंदूक से गोली चलाई गई है। जिन छह रखवालों के नाम दिए गए हैं वे बरासरी में ही रहते हैं और इन सबके पास टोपीदार बंदूक हैं। गत 16 जुलाई को नीलगाय बाजरे के खेत में मृत मिली थी जिसके बाद खेत से बाहर निकाला गया और इसकी सूचना वन्य जीव विभाग को दी गई। मौके पर ही नीलगाय का पोस्टमार्टम करवाया गया था। मौके पर उपस्थित ग्रामीणों ने तब कहा था कि रात्रि करीब साढ़े 9 बजे उन्हें गोली चलने की आवाज सुनी थी। तब लगा था कि रखवाले पशुओं को भगाने के लिए धमाका कर रहे हैं लेकिन अगले दिन सुबह नीलगाय को मृत पाया। इस मामले में नाथूसरी चौपटा थाना प्रभारी उप निरीक्षक सत्यवान ने बताया कि इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और जांच कर रहे हैं।

Edited By: Jagran