जागरण संवाददाता, सिरसा : राजकीय महिला महाविद्यालय के इतिहास विभाग के अध्यक्ष डा. कृष्ण कुमार डूडी शनिवार को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। मूल रूप से जिले के ऐलनाबाद उपमंडल के गांधी चौक निवासी डूडी ने सिरसा के नेशनल कालेज से ही पढ़ाई की थी। वर्ष 1986 में बीए करने के बाद 1989 में इसी कालेज से इतिहास विभाग के प्रवक्ता के रूप में सरकारी सेवा ज्वाइन की। परिवार में पांच भाइयों में केके डूडी सबसे छोटे हैं। बाकी सभी भाई खेतीबाड़ी व अपना निजी व्यवसाय करते हैं, वे ही परिवार के एक मात्र सदस्य थे जिन्होंने लेक्चरर के रूप में सेवाएं दी। डा. केके डूडी ने एमए, एमफिल की पढ़ाई कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से की तथा बाद में जयपुर विश्वविद्यालय से एमए एमफिल की। अपने 32 साल के कार्यकाल में करीब 24 साल उन्होंने सिरसा व फतेहाबाद में ही ड्यूटी की है इसके अलावा ऐलनाबाद, नाथूसरी चौपटा, महिला कालेज भोडियाखेड़ा में सेवाएं दी है। --------- मिलनसार व साफ सुथरी छवि के इतिहास विषय के लेक्चरार डा. केके डूडी ठेठ बागड़ी बोलते हैं। राजकीय महिला महाविद्यालय की स्थापना व संचालन में इन्होंने अहम भूमिका निभाई है और पूर्व प्राचार्य डा. तेजाराम बिश्नोई के साथ कालेज को हरा भरा बनाने के लिए के लिए सराहनीय प्रयास किए हैं। कालेज के छात्र छात्राओं पर उनका विशेष प्रभाव रहा है तथा उनसे पढ़ाई कर अनेक युवा उच्च पदों पर कार्यरत है। कालेज स्टाफ के साथ साथ भी डूडी के आत्मीय संबंध रहे हैं।

----------

डा. केके डूडी का कहना है कि नेशनल कालेज से जुड़ी यादें सदा उनके दिल में रहेगी। उन्हें यहां जो प्यार, सम्मान मिला वो सदा याद रहेगा। बेशक सरकारी सेवा से सेवानिवृत्त हो रहा हूं लेकिन समाज के लोगों से हमेशा जुड़ा रहूंगा। सेवानिवृत्ति के बाद भी अपने अध्यापन के कार्य को जारी रखेंगे।

Edited By: Jagran